सोशल मीडिया पर ट्रोल हुई तेलंगाना सरकार, हैदराबादियों ने सीएम को याद दिलाया वादा

16 Jan, 2021 15:30 IST|Sakshi

हैदराबाद : तेलंगाना सरकार (Telangana Govt) शुक्रवार को सोशल मीडिया ( Social Media) पर जमकर ट्रोल हुई है। मुद्दा था उस्मानिया हॉस्पिटल ( Osmania Hospital) का। दरअसल सरकार ने लोगों से वादा किया था कि वे सत्ता में आने पर उस्मानिया जनरल अस्पताल (OGH) के हेरिटेज ब्लॉक की बहाली का वादा किया था। इस दौरान सोशल साइट्स पर नेटिजन्स ने कई फोटोज शेयर करके ओएनजीएच को पुनर्निर्मित करने के महत्व को याद दिलाया। बता दें कि केसीआर सरकार दो बार जनता से वादा किया था कि इस हॉस्पिटल के इमारत का नवीनीकरण कराया जाएगा। 

ओजीएच की खराब स्थिति के बारे में बताते हुए, पूर्व सांसद कोंडा विश्वेश्वर रेड्डी ने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया, "यह एक चलता फिरता अस्पताल है, जानबूझकर केसीआर सरकार की उपेक्षा की जा रही है, क्योंकि वह इसे तोड़ना चाहते थे और एक नई बिल्डिंग का निर्माण करना चाहते थे। हालांकि विरोध प्रदर्शनों की वजह से ऐसा नहीं हो सका। सत्ता का नशा उनके सिर पर चढ़ गया। "

विश्वेश्वर रेड्डी के इस पोस्ट पर एक के बाद एक कई ट्वीट किए गए। एक ट्विटर हैंडलर हर्षा डागा ने लिखा, "टीएस ने राज्य उच्च न्यायालय को बताया कि ओजीएच विरासत भवन पूरी तरह से खाली और बंद कर दिया गया है और पिछले साल 25 अगस्त को धरोहर संरचना के संरक्षण, पुनर्स्थापन और नवीनीकरण के लिए 19.2 करोड़ रुपये मंजूर किए थे लेकिन सभी वादे सिर्फ कागजों पर थे। ”

वहीं एक अन्य ट्विटर हैंडलर का कहना है, "ओस्मानिया में स्वास्थ्य सेवा बुरी तरह से चरमरा गई हैं। 

 सीएम केसीआर के वादों को याद करते हुए डॉ. चैतन्य कहते हैं- ग्राउंड फ्लोर को छोड़कर कई ट्रस्टों द्वारा पहली और दूसरी मंजिल का नवीनीकरण किया गया है। 23 जुलाई, 2020 को सीएम केसीआर ने आइकोनिक ओस्मानिया बिल्डिंग का दौरा किया और नवीनीकरण का वादा किया था। 

वहीं असलम नाम के एक अन्य यूजर ने कहा कि, "मेरी बेटी को ओस्मानिया हॉस्पिटल की नई इमारत में सामान्य वार्ड में भर्ती कराया गया था। इस वार्ड में 120 से अधिक बेड हैं, लेकिन इसमें ग्राउंड पर केवल छह वॉशरूम हैं और दो खराब स्थिति में हैं।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.