रियल लाइफ में फिल्म 'खाकी' जैसी घटना, खूंखार अपराधी को पुलिस ने किया अरेस्ट

16 Jan, 2021 21:24 IST|Sakshi

हैदराबाद :  क्या आपको सच्ची घटनाओं पर आधारित तमिल हीरो कार्थी (Karthi) अभिनीत सुपरहिट फिल्म खाकी ( Khaki) याद है? इस फिल्म में, उत्तर भारत के कुछ लुटेरे ट्रक से आकर दक्षिण भारत में अलग-अलग घरों में चोरी की लूट (Loot) की घटनाओं को अंजाम देते हैं। घर में तोड़-फोड़ करने के बाद, अगर कोई उन्हें रोकता या उनके रास्ते में भी आ जाता तो वे उसकी हत्या कर देते। फिल्म में नायक और उसकी टीम अपराधियों को पकड़ने के लिए कड़ी मेहनत करती है। इसके बाद वे अपनी जांच उत्तरभारत में शुरू कर देते हैं। एक ऐसी ही घटना सामने आई है जो इस फिल्म के कहानी से बिल्कुल मिलती -जुलती है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक तेलंगाना और कर्नाटक की पुलिस ने खाकी सिनेमा की तरह एक ज्वाइंट ऑपरेशन शुरू किया है। दोनों राज्यों की पुलिस ने 118 मामलों में वांछित एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। उसकी गिरफ्तार के लिए पुलिस 45 दिन तक खाक छाननी पड़ी। दरअसल दोनों राज्यों की पुलिस संयुक्त अभियान चला रही है। अपराधी के लिए पुलिस वाले, नौसेना, मुंबई, पुणे, हैदराबाद, बैंगलोर, सोलापुर, बीदर और अन्य शहरों में जारी रहा। अंत में जाकर पुलिस की मेहनत रंग लाई।

करीमनगर के पुलिस कमिश्नर कमलासन रेड्डी ने शनिवार को मीडिया को बताया कि पुलिस ने आखिरकार शनिवार को सोलापुर में बाकर अली नाम के अपराधी को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि, उसने पुलिस के चंगुल से भागने की कोशिश। दरअसल जैसे ही पुलिस ने उसे पकड़ा तभी उसने पुलिस पर हमला कर दिया। इस दौरान पुलिस के कुछ जवान भी घायल हो गए। अंत में आखिरकार पुलिसवालों ने उसे गिरफ्तार ही कर लिया। करीमनगर सीपी ने कहा कि तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक में बाकर अली के खिलाफ पीडी एक्ट के तहत भी मामला दर्ज किया गया है। 

पुलिस ने बताया कि साल 2015 से पहले, यह पता चला था कि हैदराबाद में उसके खिलाफ सौ से अधिक चेन स्नैचिंग के मामले थे। सीपी ने कहा कि उन्हें अपराधी को पकड़ने के लिए सैकड़ों सीसीटीवी कैमरों की जांच करनी थी। उन्होंने  कहा कि पुलिस ने अपराधी के पास गांजा भी बरामद किया है। इसके अलवा उसकी लॉरियों को भी जब्त कर लिया गया है।
 

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.