इसीलिए रोक दिया गया नेरेडमेट डिवीजन का चुनाव परिणाम, यह रही वजह

5 Dec, 2020 10:01 IST|के. राजन्ना
डिजाइन फोटो

नेरेडमेट डिवीजन का जीएचएमसी चुनाव परिणाम रोक दिया गया

स्वास्तिक निशान से हटकर अन्य मुद्रा वाले वोटों की संख्या अधिक

हैदराबाद : मलजगिरी सर्किल के नेरेडमेट डिवीजन का जीएचएमसी चुनाव परिणाम रोक दिया गया है। मिली जानकारी के अनुसार मतगणना के दौरान मतों की छटाई के समय स्वास्तिक निशान से हटकर अन्य मुद्रा वाले वोटों की संख्या अधिक होने के कारण रिजल्ट रोक दिया गया है। 

आपको बता दें कि तेलंगाना उच्च न्यायालय ने केवल ऐसे मत पत्रों को गणना में लेने के आदेश दिये, जिन पर मतदाताओं द्वारा स्वास्तिक का निशान लगाया गया है। इस कारण उच्च न्यायालय के आदेश को ध्यान में रखते हुए अधिकारियों ने परिणाम रोक दिया है।  

हाईकोर्ट ने चुनाव आयोग से साफ कहा है कि जीएचएमसी चुनाव में सिर्फ उन्हें ही वोट माना जाए  जिन बैलेट पेपर्स पर मतदान का निशान रहेगा। भाजपा नेताओं की आपत्तियों को ध्यान में लेते हुए हाईकोर्ट ने वोट का निशान वाले मतपत्रों ही वोट मानने को कहा है। जीत और हार के बीच मार्किंग वोट होने की स्थिति में हाईकोर्ट के आदेश के तहत अंतिम निर्णय जारी करने का आदेश दिया है।

यह भी पढ़ें :

कौन बनेगा हैदराबाद का नया मेयर, इस नाम पर तेज हुई चर्चा

GHMC Elections 2020 : चुनाव आयोग को हाईकोर्ट का निर्देश, केवल वोट के ठप्पे वाले होंगे मान्य

हाईकोर्ट ने चुनाव आयोग को तुरंत यह सूचना सभी काउंटिंग केंद्रों तक पहुंचाने का आदेश दिया है। साथ ही विस्तृत जानकारी के साथ काउंटर दाखिल करने का निर्देश देते हुए अगले सुनवाई सोमवार तक टाल दी।

गौरतलब है कि पेन से टिक करने पर भी उसे वोट मानते हुए राज्य चुनाव आयोग ने सर्कुलर जारी किया था। उसके तुरंत बाद चुनाव आयोग के इस फैसले को चुनौती देते हुए भाजपा नेताओं ने हाईकोर्ट में हाउस मोशन याचिका दाखिल की थी।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.