सिद्दिपेट घटना: पुलिस ने रखा अपना पक्ष, कहा-नियम के तहत हुई कार्रवाई

28 Oct, 2020 07:55 IST|मीता
सीपी जोएल डेविस

तलाशी अभियान के सटीक वीडियो और फोटो लिये गये

सिद्दीपेट की घटना में 27 लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए

जब्त किए गए पैसे लेकर भागना बड़ा अपराध है: सीपी जोएल डेविस 

हैदराबाद: दुब्बाका उपचुनाव के लिए अवैध रूप से धन जमा किया जा रहा है यह सूचना मिलते ही सिद्दीपेट शहर में तीन स्थानों पर छापा मारा गया और सुरभि अंजन राव के घर से  18.67 लाख रुपये नकद पाए गए। सिद्दीपेट के पुलिस कमिश्नर जोएल डेविस ने बताया कि उन्हें अग्रिम नोटिस देने के बाद ही  कार्यकारी मजिस्ट्रेट (तहसीलदार), एसीपी की देखरेख में छापा मारा गया था।

उन्होंने कहा कि चुनाव कीआचार संहिता सिद्दीपेट और मेदक जिलों में लागू थी और किसी तरह की भी जानकारी या सूचना मिलने पर हर उस घर का निरीक्षण किया जा रहा है जहां संदेह हो। 

सोमवार को चार स्थानों पर छापा मारा गया और इस तलाशी के दौरान 18.67 लाख रुपये नकद बरामद हुए और प्रत्येक वस्तु की तस्वीरें और वीडियो लिए गए। यह तलाशी अंजन राव की उपस्थिति में ही की गई। योजना के मुताबिक पुलिस के साथ हाथापाई के बाद पैसे लेकर भाग गए। 

उनमें से पांच की पहचान कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। 27,500 जब्त किए गए। अन्य 22 लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं। उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

करीमनगर के सांसद बंडी संजय को सिद्दीपेट की घटना के बारे में फोन पर बताय गया और उन्हें पहले ही बता दिया गया कि अगर वे सिद्दीपेट आते हैं तो सुरक्षा की समस्या होगी और वह यहां न आए। 

वहीं जब सांसद ने सिद्दीपेट पहुंचने की कोशिश की तो उन्हें हिरासत में ले लिया गया और करीमनगर भेज दिया गया। उन्होंने कहा कि वह उपचुनाव प्रचार के लिए आने से किसी को नहीं रोक रहे हैं। हम अन्य दलों के नेताओं के विचारों की भी जांच कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें:

भाजपा अध्यक्ष बंडी संजय गिरफ्तार, कहा-दुब्बाका चुनाव जीतने के लिए गलत रास्ते अपना रही TRS

उन्होंने कहा कि पुलिस के खिलाफ गलत प्रचार किया जा रहा है और जिला प्रशासन यह सुनिश्चित करने के लिए काम कर रहा है कि उपचुनाव सशस्त्र तरीके से हो। लोग शांतिपूर्ण माहौल में मतदान के अपने अधिकार का प्रयोग करने के लिए सभी सावधानी बरत रहे हैं।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.