इलेक्ट्रिक वाहन हब में बदलने जा रहा है तेलंगाना : KTR

30 Oct, 2020 13:47 IST|के. राजन्ना
सम्मेलन को संबोधित करते हुए मंत्री केटी रामाराव

तेलंगाना इलेक्ट्रिक वाहन हब में बदलने जा रहे हैं

इलेक्ट्रिक वाहन पर्यावरण के लिए फ्रेंड्ली होते हैं

हैदराबाद:  आईटी और उद्योग मंत्री केटीआर ने कह कि हम तेलंगाना को इलेक्ट्रिक वाहन हब में बदलने जा रहे हैं। इलेक्ट्रिक वाहन पर्यावरण के लिए फ्रेंड्ली होते हैं। मंत्री ने यह भी बताया कि तेलंगाना में TS iPass और BS iPass पहले ही सफल हो चुके हैं। इलेक्ट्रिक वाहन भी सफल हो रहे हैं।

आईटी और उद्योग मंत्री केटीआर ने परिवहन मंत्री पुवाडा अजय कुमार के साथ मिलकर राज्य सरकार द्वारा तैयार की गई नई इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) नीति का शुक्रवार सुबह अनावरण किया। साथ ही जुबली हिल्स स्थित मर्रि चेन्ना रेड्डी मानव संसाधन केंद्र में तेलंगाना इलेक्ट्रिक वाहन शिखर सम्मेलन में नीति की घोषणा की।

मंत्री केटीआर ने स्पष्ट किया कि पिछले पांच वर्षों में तेलंगाना को निवेश के रूप में 2.8 बिलियन डॉलर मिले हैं। इस दौरान केटीआर ने 2020-2030 तक इलेक्ट्रिक वाहनों के निर्माण और उपयोग पर एक नीतिगत की भी घोषणा की है। इस अवसर पर पांच कंपनियों के साथ आज समझौतों पर हस्ताक्षर किये गये।

मंत्री केटीआर ने आगे कहा कि हाल ही में हुई भारी बारिश से हैदराबाद के लोग और किसान प्रभावित हुए हैं। पर्यावरण की रक्षा करने की जिम्मेदारी हम सब पर हैं। उन्होंने कहा कि भविष्य की पीढ़ियों के लिए प्रदूषण मुक्त वातावरण प्रदान करने की आवश्यकता है।

केटीआर ने सुझाव दिया कि डी-कार्बनीकरण, डिजिटलीकरण और डी-केंद्रीकरण को लागू किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि आने वाले कुछ सालों में प्रदेश की आबादी गांवों की तुलना में शहरों में अधिक होगी। राज्य की जीडीपी में 50 प्रतिशत हैदराबाद से आती है।

मंत्री ने कह कि हमारे पास बड़े पैमाने पर सौर ऊर्जा उपलब्ध है। तेलंगाना देश में सौर ऊर्जा उत्पादन में दूसरे स्थान पर है। चार्जिंग स्टेशन और बैटरी निर्माण कंपनियां निवेश करने के लिए आगे आ रही हैं। उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रिक विनिर्माण के लिए भूमि उपलब्ध है।

केटीआर ने कहा कि माहेश्वरम में हजारों एकड़ जमीन उपलब्ध है। हम एक हजार एकड़ में ऑटोमोबाइल विनिर्माण इकाई को बढ़ावा दे रहे हैं। तेलंगाना सरकार हैदराबाद में पर्यावरण के अनुकूल वाहनों के निर्माण और संचालन के लिए कंपनियों को आमंत्रित कर रहे हैं।

मंत्री ने बताया कि ईसीआईएल जैसी सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के साथ इलेक्ट्रॉनिक्स के क्षेत्र में देश के लिए हैदराबाद केंद्र था। इलेक्ट्रिक वाहनों की नई नीति अदभूत सफल होने जा रही है। उन्होंने कहा कि हैदराबाद में बड़े पैमाने पर इलेक्ट्रिक वाहन विनिर्माण इकाइयां स्थापित की जाएंगी। उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रिक वाहन निर्माण क्षेत्र में कंपनियां निवेश करने सामने आ रही हैं।

आईटी मंत्री ने बताया कि इस समय 78 चार्जिंग स्टेशन आरटीसी के देखरेख में जारी हैं। आईटी उत्पादों के निर्यात में तेलंगाना दूसरे स्थान पर है। केटीआर ने स्पष्ट किया कि आईटी क्षेत्र में राष्ट्रीय स्तर की तुलना में तेलंगाना में वृद्धि दर अधिक है।

इस कार्यक्रम में मंत्री पुवाडा अजय कुमार, इंद्रकरण रेड्डी, परिवहन विभाग प्रधान सचिव सुनील शर्मा, उद्योग विभाग के प्रधान सचिव जयेश रंजन, अभिनेता विजय देवरकोंडा, वीडियो कांफ्रेंस के जरिए नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत, महिंद्रा एंड महिंद्रा के चेयरमैन आनंद महिद्रा ने भाग लिया।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.