जो काम कोई भारतीय नहीं कर पाया, वो करिश्‍मा नटराजन ने पहले ही टेस्‍ट में कर दिया

15 Jan, 2021 16:26 IST|मो. जहांगीर आलम
फोटो : सौ. सोशल मीडिया

पहले टेस्ट में नटराजन ने रचा इतिहास 

यॉर्कर से किया सबको प्रभावित

आईपीएल के प्रदर्शन को बरकार रखा 

ब्रिस्बेन : भारत (India) और ऑस्ट्रेलिया (Australia) के बीच ब्रिस्बेन (Brisbane)  में टेस्ट सीरीज (Test Series) का चौथा और आखिरी मैच खेला जा रहा है। खेल के पहले दिन ऑस्ट्रेलिया ने खेलते हुए पांच विकेट पर 274 रन बना लिए है। इससे पहले कप्‍तान अजिंक्‍य रहाणे (Ajinkya Rahane)  ने टीम इंडिया (Team India) की प्‍लेइंग इलेवन में दो नए चेहरों को शामिल करके सबको चौंका दिया। 

ब्रिस्‍बेन में भारतीय टीम की ओर से ऑलराउंडर वॉशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) और तेज गेंदबाज टी. नटराजन (T. Natarajan) ने टेस्‍ट क्रिकेट में डेब्‍यू किया। सुंदर ने जहां अपना पहला शिकार ऑस्‍ट्रेलियाई दिग्‍गज स्‍टीव स्मिथ को बनाया वहीं नटराजन ने भी चौथे टेस्‍ट के पहले दिन दो विकेट हासिल किए। लेकिन नटराजन को इन विकेटों ने नहीं, बल्कि उनके पहले टेस्‍ट ने रिकॉर्ड बुक में स्‍थान दिलवाया। रिकॉर्ड भी ऐसा जो आज तक टीम इंडिया के 1600 से ज्‍यादा अंतरराष्‍ट्रीय मैचों में और कोई भारतीय गेंदबाज कभी नहीं बना सका। आइए जानते हैं कि क्या है माजरा... 

पहले टेस्ट में नटराजन ने रचा इतिहास 

दरअसल, ब्रिस्‍बेन टेस्‍ट में उतरे टी. नटराजन का ये पहला टेस्‍ट मैच है। इससे पहले उन्‍होंने ऑस्‍ट्रेलिया के मौजूदा दौरे पर ही वनडे और टी-20 क्रिकेट में भी आगाज किया था। इसके साथ ही नटराजन भारतीय क्रिकेट इतिहास के ऐसे पहले गेंदबाज बन गए हैं जिन्‍होंने एक ही दौरे पर अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में डेब्‍यू किया है।

इसमें सबसे कमाल की बात ये है कि नटराजन ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर एक नेट गेंदबाज के तौर पर ले जाए गए थे। मगर यहीं से उनकी किस्‍मत पूरी तरह पलट गई। 

यॉर्कर से किया सबको प्रभावित

सबसे पहले उन्‍हें वनडे सीरीज के कैनबरा में खेले गए आखिरी मुकाबले में खेलने का मौका मिला। इसके बाद उन्‍होंने टी-20 सीरीज में अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया। इस सीरीज में उन्‍होंने अपनी यॉर्कर से काफी तारीफ पाई। 

आईपीएल के प्रदर्शन को बरकार रखा 

आईपीएल के यूएई में खेले गए 13वें सीजन में नटराजन सनराइजर्स हैदराबाद टीम का हिस्‍सा थे, जहां उन्‍होंने 16 विकेट अपने नाम किए थे। इसी प्रदर्शन के चलते उन्‍हें ऑस्‍ट्रेलिया ले जाने का फैसला लिया गया था। हालांकि पहले मोहम्‍मद शमी, उमेश यादव और अब जसप्रीत बुमराह के चोटिल होने के बाद नटराजन को टेस्‍ट डेब्‍यू करने का मौका भी मिल गया।

इसे भी पढ़ें :

IND vs AUS: अब तेज गेंदबाज नवदीप सैनी हुए चोटिल, बढ़ी भारत की चिंता

Aus vs Ind : ऑस्ट्रेलिया ने पहले दिन 5 विकेट पर बनाए 274 रन, लाबुशेन ने बनाया शतक

टीम इंडिया मे ऐसा करने वाले बने पहले गेंदबाज

29 साल के नटराजन की उपलब्धि इसलिए भी बड़ी है क्‍योंकि क्रिकेट इतिहास में भारतीय टीम ने अब तक 1600 से ज्‍यादा अंतरराष्‍ट्रीय मैच खेले हैं। लेकिन आज तक कोई भारतीय गेंदबाज एक ही सीरीज पर तीनों प्रारूपों में डेब्‍यू नहीं कर सका है। टीम इंडिया ने अब तक करीब 550 टेस्‍ट, 990 वनडे और 130 से ज्‍यादा टी-20 मैच खेले हैं। नटराजन ने अपने करियर में 20 प्रथम श्रेणी मैच खेले हैं, जिनमें उन्‍होंने 64 विकेट हासिल किए हैं।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.