10 साल अफेयर, ब्रेकअप और फिर हुई सफा बेग की एंट्री, ऐसी है इरफान पठान की लाइफ

27 Oct, 2020 10:21 IST|Sakshi
फोटो : सौ. सोशल मीडिया

इरफान पठान का वनडे मैच में पदार्पण 

इरफान पठान की नीजी जिंदगी 

सफा बेग की इरफान की जिंदगी में एंट्री 

हैदराबाद : टीम इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज इरफान पठान आज अपना 36वां जन्मदिन मना रहे हैं। इरफान की तुलना स्विंग के सुल्तान और पाकिस्तान के पूर्व खिलाड़ी वसीम अकरम से की जाती थी। वो ऐसे गेंदबाज रहे हैं जिन्होंने  विरोधी टीमों को मैदान पर टिकने नहीं दिया। जिसकी वजह से टीम इंडिया ने अधिकतर मुकाबले जीते हैं। आज उनका जन्मदिन है। इस मौके पर जानते हैं उनसे जुड़ी बातें... 

इरफान पठान का जन्म 27 अक्टूबर 1984 को गुजरात के वडोदरा में हुआ था। इरफान पठान के जीवन का संघर्ष किसी से छुपा नहीं है, वो बचपन में मस्जिद के पीछे बने एक छोटे-से कमरे में रहा करते थे। उनके पिता उसी मस्जिद में मुअज्जिन थे, इरफान अपने पिता और अपने बड़े भाई यूसुफ के साथ मिल कर मस्जिद की साफ-सफाई में भी मदद किया करते थे। बचपन में क्रिकेट खेलने का शौक दोनों भाइयों को सफलता की बुलंदियों पर पहुंचा देगा, यह उनके परिवार में किसी ने नहीं सोचा था।

इरफान ने करियर की शुरूआत फर्स्ट क्लास मैचों से की थी। उन्होंने पहला फर्स्ट क्लास मैच कि शुरूआत बड़ौदरा की तरफ से 2000 में आंध्रा के खिलाफ किया था। इसके बाद इरफान ने अब तक 113 फर्स्ट क्लास मैच खेले, जिनमें 365 विकेट झटके हैं।

इरफान पठान का वनडे मैच में पदार्पण 

इरफान पठान ने टीम इंडिया के लिए सबसे पहले टेस्ट 23 दिसंबर 2003 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था। वहीं 2004 में वनडे मैच में पदार्पण किया। टीम इंडिया में इरफान के साथ उनके सगे भाई यूसुफ पठान भी खेल चुके हैं। यूसुफ और इरफान का चयन टी-20 विश्वकप 2007 के लिए हुआ था। इन दोनों भाईयों ने भारत के लिए कई बार बेहतरीन प्रदर्शन किया। विश्वकप 2007 में दोनों भाई टीम में थे।

टी-20 विश्व कप में शानदार प्रदर्शन  

विश्वकप 2007 के फाइनल मैच में वीरेंद्र सहवाग चोटिल हो गए थे। उस समय यूसुफ को ओपन करने के लिए कहा गया। इस पर इरफान का कहना था कि जब यूसुफ को फाइनल में मौका मिला तो वह पल मेरे लिए यादगार पल था। हम दोनों के साथ खेलने का सपना पूरा हो रहा था। टीम इंडिया ने वर्ल्ड कप जीता। इस मैच में इरफान ने 4 ओवरों में सिर्फ 16 रन देकर 3 विकेट लिए। उन्हें 'मैन ऑफ द मैच' चुना गया। भारत पहला टी-20 वर्ल्ड कप जीतने में कामयाब रहा।

टेस्ट में हैट्रिक

इरफान के नाम टेस्ट मैच में हैट्रिक लेने का एक खास रिकॉर्ड दर्ज है। दरअसल 2006 में टीम इंडिया 3 टेस्ट मैचों की सीरीज के लिये पाकिस्तान गयी थी। इस सीरीज में उन्होंने एक मैच के पहले ओवर की अंतिम तीन गेंदों पर लगातार तीन विकेट झटके थे। यह हैट्रिक बेहद खास थी, क्योंकि इरफान टेस्ट मैच के पहले ही ओवर में हैट्रिक लेने वाले विश्व के सबसे पहले गेंदबाज बने थे। 

इरफान पठान की नीजी जिंदगी 

इरफान पठान अपनी पर्सनल लाइफ को लेकर भी चर्चा में रहते हैं। इरफान का दिल ऑस्ट्रेलिया में भारतीय राजनयिक की बेटी शिवांगी देव पर आ गया था। ये बात सामने तब आई थी जब साल 2003 में ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद टीम इंडिया के साथ इरफान भारत नहीं लौटे थे।दोनों का अफेयर पूरे 10 साल तक चला। पठान और शिवांगी देव की पहली मुलाकात 2003 में एडिलेड में हुई थी। डेटिंग का यह सिलसिला धीरे-धीरे आगे बढ़ा और दोनों नजदीक आ गए। कैनबरा में पोस्टेड एक भारतीय राजनयिक की बेटी शिवांगी खुद चार्टड अकाउंटेंट थीं। सबको लगता था कि ये जोड़ी पति-पत्नी के रूप में तब्दील हो जाएगी। लेकिन अफसोस ऐसा नहीं हो पाया।

पहले तो दोनों के परिवार वाले इस शादी के लिए तैयार नहीं थे, क्योंकि दोनों अलग-अलग धर्मों के थे, जब घर वाले माने तो इरफान ने शर्त रखी कि पहले उनके बड़े भाई यूसुफ पठान की शादी हो जाए तब वो शिवांगी से शादी करेंगे , जिस पर शिवांगी राजी नहीं हुईं और दोनों के प्रेम का सिलसिला वहीं पर खत्म हो गया।

सफा बेग की एंट्री

शिवांगी से ब्रेकअप के बाद इरफान की लाइफ में जिद्दा की मॉडल सफा बेग की एंट्री हुई। दोनों की मुलाकात दुबई में एक पारिवारिक समारोह में हुई और दोनों ने एक-दूसरे को पसंद कर लिया। सफा बेपनाह हुस्न की मल्लिका हैं और इरफान से 10 साल छोटी हैं। मूल रूप से हैदराबाद की रहने वाली सफा ने मॉडलिंग के साथ ही जेद्दा में एक पीआर कंपनी में भी काम किया है। दोनों की शादी की खबरों ने एक बार जरूर लोगों को चौंकाया था। फिलहाल इरफान और सफा दोनों अपनी लाइफ में काफी खुश हैं। दोनों के प्यार की बगिया में एक इमरान पठान नाम का फूल भी है। फिलहाल इरफान आईपीएल में कॉमेंटरी कर रहे हैं। 
 

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.