बिहार चुनाव 2020 : सीट बंटवारे पर महागठबंधन में रार, नहीं बन रही कोई बात

15 Sep, 2020 17:42 IST|अनूप कुमार मिश्रा
राहुल गांधी से मुलाकात करते तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

बिहार चुनाव में सीट बंटवारे पर रार

महागठबंधन में आरजेडी का सबसे अधिक सीट पर दावा

कांग्रेस ने भी किया है पिछली बार के मुकाबले ज्यादा सीट की उम्मीद

पटना : बिहार में विधानसभा चुनाव की सरगर्मी बढ़ती जा रही है। राजनीतिक दलों में सीट बंटवारे से लेकर गठबंधन जैसे तमाम मुद्दों पर चर्चा हो रही है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने अपने बिहार दौरे पर नीतीश कुमार को एनडीए का सीएम कैंडिडेट घोषित करके स्पष्ट कर दिया है कि गठबंधन में कोई समस्या नहीं है। दूसरी तरफ महागठबंधन में अभी तक सीट बंटवारे से लेकर सीएम चेहरे तक किसी भी बात की आपसी सहमति नहीं बनी है।

बिहार में विपक्षी दलों के महागठबंधन में शामिल हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) के बाहर जाने के बाद अब सीट बंटवारे को लेकर कवायद शुरू हो गई है। इस मसले पर हालांकि फिलहाल कोई खुलकर नहीं बोल रहा है, लेकिन बड़े से लेकर छोटे दल भी बंटवारे में ज्यादा से ज्यादा सीटें पाने की फिराक में हैं।

महागठबंधन में शामिल राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और कांग्रेस जहां पिछली बार से अधिक सीटों की चाहत रखे हुए हैं, वहीं छोटे दल भी 'सम्मानजनक' संख्या में सीटें मांग रहे हैं। इस बीच, सूत्रों का दावा है कि कांग्रेस और राजद के पिछले चुनाव से ज्यादा सीटों पर दावा कर रहे हैं, ऐसे में छोटे दल असमंजस में हैं।

150 सीटों पर अपनी दावेदारी पेश कर सकती है आरजेडी

राजद भी पिछले चुनाव से अधिक सीटों पर दावेदारी ठोकने का मन बना चुकी है। राजद के सूत्रों के मुताबिक, राजद इस चुनाव में राज्य की 243 सीटों में से 150 सीटों पर अपनी दावेदारी पेश कर सकती है। सूत्र तो यहां तक दावा कर रहे हैं कि राजद अपनी सीटों को चिह्नित कर कई क्षेत्रों में प्रत्याशियों को तैयार रहने के भी निर्देश दे दिए हैं।

राजद के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी हालांकि सीट बंटवारे के संबंध में पूछे जाने पर कहते हैं कि सब कुछ समय आने पर तय हो जाएगा। उन्होंने कहा, "महागठबंधन में अभी कई और दल आना चाहते हैं, इसके बाद सभी दल के नेता बैठकर सबकुछ तय कर लेंगे।"

कांग्रेस ने 60 से अधिक सीटों पर किया दावा

कांग्रेस ने इस चुनाव में 60 से अधिक सीटों पर अपनी दावेदारी कर दी है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सदानंद सिंह कह चुके हैं कि इस चुनाव में कांग्रेस 80 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। कहा जा रहा है कि पिछली सीटों के अलावा कांग्रेस कुछ नई सीटों की भी पहचान कर चुकी है, जहां संगठन मजबूत है। कांग्रेस चुनाव समिति ने क्षेत्र में अपनी जमीन तलाशने के लिए वरिष्ठ नेताओं को क्षेत्रों में 'ऑब्जर्बर' बनाकर भेजा है। कहा जा रहा है कि इन नेताओं की रिपोर्ट मिलने के बाद कांग्रेस अपने पत्ते खोलेगी।

कहा जा रहा है इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव में वामपंथी दल तो महागठबंधन के घटक दलों में शामिल होंगे ही, झारखंड की सत्तारूढ़ पार्टी झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) भी महागठबंधन में शामिल होकर चुनाव मैदान में उतरने वाली है, जिसके संकेत झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन खुद दे चुके हैं। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन दो दिन पूर्व रांची में राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद से मिलने के बाद कह चुके हैं कि झामुमो बिहार में राजद के साथ मिलकर चुनाव मैदान में उतरेगी।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.