उत्तराखंड में IAS अफसर का अपहरण, मंत्री ने DIG से की शिकायत, टेंडर प्रक्रिया में धांधली

23 Sep, 2020 07:56 IST|Sakshi

देहरादून : उत्तराखंड के आईएएस अधिकारी और महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग के निदेशक वी षणमुगम दो दिन से लापता हैं। अधिकारी के गायब होने का मामला उस वक्त सामने आया जब राज्य मंत्री रेखा आर्य ने देहरादून के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अरुण मोहन जोशी को पत्र लिखा। उन्होंने पत्र में आईएएस अधिकारी के लापता होने का जिक्र करते हुए उनके अपहरण की आशंका भी जताई है। 

रेखा आर्य ने लिखा कि वी षणमुगम उनके विभाग में अपर सचिव और निदेशक के पद पर काम कर रहे हैं, लेकिन दो दिन से उनसे कोई संपर्क नहीं हो पा रहा है। उन्हें फोन किया जा रहा है, लेकिन उनका फोन बंद है। 20 सितंबर से उनसे कोई संपर्क नहीं हो रहा है, ऐसे में या तो वो खुद गायब हो गए हैं, या उनका अपहरण कर लिया गया है। उनका कहना है कि विभाग में मानव संसाधन आपूर्ति के लिए टेंडर की प्रक्रिया चल रही थी, जिसमें घोर अनियमितता एवं धांधली सामने आ रही हैं।

उन्होंने कहा कि इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता कि ऐसी स्थिति से बचने के लिए वो खुद ही भूमिगत हो गए हों। उन्होंने पुलिस से आईएएस की तलाश करने को कहा है।

इससे पहले रेखा आर्य ने मामले में विभाग के निदेशक वी षणमुगम को तलब करते हुए एक पत्र भी उन्हें लिखा था। उन्होंने महिला एवं बाल विकास में आउसोर्सिंग एजेंसी में गड़बड़ी की शिकायत सामने आने पर निदेशक को पत्र लिखकर अपना पक्ष रखने को कहा था।

उन्होंने षणमुगम से पत्र में कहा था कि कुछ फर्मों ने गड़बड़ी के संबंध में शिकायत की है, जिसको लेकर दो दिन से आपसे संपर्क करने की कोशिश की गई, लेकिन आपका फोन नहीं उठा। इस संबंध में सचिव को फोन किया गया तो उन्होंने भी फोन नहीं उठाया। 

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.