सुशांत सुसाइड मामले की जांच के लिए मुंबई पहुंचे पटना एसपी विनय तिवारी को क्वारंटीन से छोड़ा गया

7 Aug, 2020 08:25 IST|Sakshi
विनय तिवारी, एसपी पटना सिटी

बिहार के आईपीएस ऑफिसर को क्वारंटीन से छोड़ा गया

विनय तिवारी जैसे ही मुंबई पहुंचे, उन्हें क्वारंटीन कर लिया गया था

सीबीआई पटना पुलिस से दस्तावेज हैंडओवर लेगी

मुंबई : लंबी फजीहत के बाद आखिरकार सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच करने मुंबई पहुंचे पटना के सिटी एसपी विनय तिवारी को बीएमसी ने क्वारंटीन से रिलीज कर दिया है। बता दें कि सुशांत मामले में सुप्रीम कोर्ट के दखल के बाद सीबीआई और ED ने अपनी जांच शुरू कर दी है।

बिहार के आईपीएस ऑफिसर को क्वारंटीन से छोड़ा गया

सुशांत सिंह मामले की जांच के लिए बिहार से मुंबई आए पटना के सिटी एसपी विनय तिवारी को बीएमसी ने क्वारंटीन से रिलीज कर दिया है। मालूम हो, बीएमसी के अधिकारियों ने उन्हें मुंबई आने पर जबरन क्वारंटीन कर दिया था। बीएमसी के इस कदम की काफी आलोचना हुई थी। सुप्रीम कोर्ट ने भी अपनी सुनवाई के दौरान कहा था कि इससे गलत संदेश गया है। बिहार के डीजीपी ने भी इस पर नाराजगी जताई थी। गुरुवार को मुंबई आई पटना पुलिस की चार सदस्यीय टीम बिहार लौट गई है। हालांकि बिहार सरकार और बिहार पुलिस के आला अधिकारियों के दखल के बावजूद जब बीएमसी एसपी विनय तिवारी को क्वारंटीन से छोड़ने को राजी नहीं हुई तो गुरुवार को लिखित में बिहार पुलिस ने इसकी शिकायत की। साथ ही यह भी कहा कि अब देखते हैं कि आप हमारे अधिकारी को छोड़ते हैं या नहीं!

फैसला रिटर्न टिकट दिखाने के बाद लिया गया

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच करने मुंबई पहुंचे बिहार कैडर के आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को क्वारंटीन से छोड़ दिया गया। पटना पुलिस की सिफारिश पर बीएमसी ने 5 दिन की क्वारंटीन के बाद आईपीएस अफसर विनय तिवारी को छोड़ने का फैसला किया। यह फैसला रिटर्न टिकट दिखाने के बाद लिया गया। आईपीएस विनय तिवारी को क्वारंटीन से छोड़ने के लिए बीएमसी की ओर से कुछ शर्तें रखी गईं थीं। इसके मुताबिक, वह 8 अगस्त के बाद महाराष्ट्र छोड़ सकते हैं। उन्हें अपने रिटर्न टिकट के बारे में बीएमसी को जानकारी देना होगा। वह एयरपोर्ट तक प्राइवेट कार में जाएंगे और एसओपी का पालन करेंगे। यात्रा के दौरान भी सभी नियमों का पालन करेंगे। इसके साथ ही बीएमसी ने इस बात पर भी हैरानी जताई कि एक सीनियर अधिकारी को नियम के बारे में जानकारी नहीं है।

गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह ने पटना में रिया चक्रवर्ती के खिलाफ मामला दर्ज कराया था, जिसकी जांच करने के लिए आईपीएस विनय तिवारी को मुंबई भेजा गया था।

विनय तिवारी जैसे ही मुंबई पहुंचे, उन्हें क्वारंटीन कर लिया गया था

जैसे ही आईपीएस विनय तिवारी मुंबई पहुंचे, उन्हें क्वारंटीन कर लिया गया। इसेेेे लेकर बिहार पुलिस और मुंबई पुलिस में ठन गई। हालांकि, बाद में मुंबई पुलिस ने इस मामले में अपना रोल होने से इनकार कर दिया। इसके बाद बिहार पुलिस ने बीएमसी को चिट्ठी लिखकर आईपीएस विनय तिवारी को तुरंत छोड़ने की अपील भी की, लेकिन बीएमसी ने बिहार पुलिस की बात नहीं मानी। इस बीच बिहार सरकार ने मुंबई पुलिस पर सहयोग न करने का आरोप लगाते हुए केस सीबीआई को ट्रांसफर कर दिया। मुंबई और पटना पुलिस की खींचतान ने मामले को और भी पेचीदा बना दिया, जिसके बाद अब सीबीआई ने मामले की जांच शुरू करने की तैयारी कर ली। रिया चक्रवर्ती के खिलाफ केस दर्ज किया जा चुका है। वहीं जांच टीम का गठन हो गया है।

सीबीआई पटना पुलिस से दस्तावेज हैंडओवर लेगी

सूत्रों की मानें तो सीबीआई पटना पुलिस से दस्तावेज हैंडओवर लेगी। हालांकि, अभी सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई का इंतजार किया जा रहा है। वहीं रिया के वकील ने एक बार फिर सीबीआई जांच का विरोध किया है। उनका कहना है कि कानूनी तौर पर बिहार सरकार की सिफारिश पर सीबीआई जांच नहीं की जा सकती। इसके लिए महाराष्ट्र सरकार की सिफारिश जरूरी है। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र और बिहार सरकार को जवाब देने के लिए वक्त दिया था। ऐसे में सीबीआई ने अपनी तैयारी कर ली है और अब सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई का इंतजार है। अगर सुप्रीम कोर्ट में फैसला केंद्र या बिहार सरकार के पक्ष में आता है तो सीबीआई जांच शुरू हो जाएगी। अगर नहीं आता है तो सीबीआई जांच नहीं कर पाएगी।

रिया से ईडी करेगी पूछताछ

गुरुवार को सीबीआई ने सुशांत सिंह राजपूत केस में FIR दर्ज की, जिसमें रिया चक्रवर्ती समेत 6 लोगों को आरोपी बनाया गया। जांच के लिए सीबीआई ने SIT का गठन किया है। इस टीम को गुजरात कैडर के आईपीएस मनोज शशिधर हेड कर रहे हैं। सुशांत केस में ईडी ने रिया चक्रवर्ती को 7 अगस्त को पूछताछ के लिए बुलाया है। रिया से उनकी प्रॉपर्टी और सुशांत संग लेन-देन को लेकर सवाल पूछे जा सकते हैं।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.