सुशांत मामले पर महाराष्ट के गृहमंत्री का CBI जांच से इनकार, CM नीतीश ने कहा- यह बात ठीक नहीं

3 Aug, 2020 17:41 IST|Sakshi
बिहार सीएम नीतीश कुमार (फोटो सौज्य सोशल मीडिया)

सुशांत सिंह राजपूत मामला

CM नीतीश ने कहा- यह बात ठीक नहीं

बिहार विधानसभा में गूंजा मुद्दा

पटना : सुशांत सिंह राजपूत का मामला जहां देश भर में चर्चा का विषय बना गया है। तो वहीं अब यह दो प्रदेशों के बीच भी टकराव का मुद्दा भी बन गया है। दोनों ही प्रदेश की सरकारों की इस मामले में अलग-अलग राय है। एक तरफ जहां महाराष्ट्र सरकार इस मामले को सीबीआई को सौंपने से इनकार कर रही है, महाराष्ट्र सरकार की ओर से बिहार पुलिस के साथ किए जा रहे असहयोगात्म व्यवहार पर बिहार के सीएम नीतीश कुमार खुश नहीं दिखे। 

सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि यह बात ठीक नहीं है। सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि यह कोई राजनीतिक मामला नहीं है, बल्कि बिहार पुलिस अपनी ड्यूटी कर रही है। उन्होंने आगे कहा कि अब उनके डीजीपी महाराष्ट पुलिस के डीजीपी से इस बाारे में बात करेंगे। 

बता दें कि दो दिन पहले भी नीतीश कुमार ने कहा था कि अगर सुशांत का परिवार सीबीआई जांच के लिए कहता है तो वो सिफारिश जरूर करेंगे। 

बिहार पुलिस के आईपीएस अफसर विनय तिवारी को किया क्वारंटीन

वहीं ताजा घटनाक्रम में  जिस तरह यहां से जांच करने गई पुलिस टीम के साथ सहयोग न करना और बिहार पुलिस के आईपीएस अफसर विनय तिवारी को जब जांच के लिए मुंबई भेजा गया तो उन्हें जबरन जानबूझ कर क्वारंटाइन कर दिया गया। इन बातों से साफ है कि मुंबई पुलिस को कहीं न कहीं डर है कि मामले में सच उजागर न होने पाए। लगता है कि इस मामले में सीएम नीतीश कुमार को भी इस तरह की उम्मीद नहीं थी। 

गौरतलब है कि रविवार की रात पटना के नगर पुलिस अधीक्षक विनय तिवारी के मुंबई पहुंचने पर बीएमसी ने उन्हें 15 अगस्त तक पृथक वास में भेज दिया और उनके हाथ पर मुहर भी लगा दी   जिस पर पृथक वास अवधि की जानकारी है। इस मामले पर बीएमसी ने कहा है कि बिहार पुलिस के अधिकारी को पृथक-वास में भेजने का फैसला महाराष्ट्र सरकार के दिशा-निर्देशों के मुताबिक किया गया है। 

महाराष्ट्र के गृह मंत्री ने कहा कि पुलिस प्रोफेशनल तरीके से कर रही जांच

 महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने सोमवार को कहा कि मुंबई पुलिस अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच 'बेहद पेशेवर तरीके' से कर रही है। मंत्री ने हालांकि इस सवाल का जवाब नहीं दिया कि मामले की जांच कर रही बिहार पुलिस की जांच की निगरानी के लिये यहां पहुंचे पटना के नगर पुलिस अधीक्षक विनय तिवारी को बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने पृथक वास में क्यों भेज दिया। 

बिहार विधानसभा​ में गूंजा मामला

वहीं सोमवार को यह मामला बिहार विधानसभा में गूंजा।  बिहार विधानसभा के मानसून सत्र सोमवार को पटना विधान मंडल भवन से बाहर ज्ञान भवन में बुलाया गया। विधानसभा में सोमवार को सुशांत सिंह आत्महत्या का मामला गूंजा। सभी दलों के विधायकों ने एक स्वर में सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या मामले की जांच सीबीआई  से कराने की मांग की।

निष्पक्ष जांच कराने की मांग ने पकड़ा जोर

विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने इस मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की। विधानसभा में छातापुर विधायक और दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत के भाई नीरज कुमार बबलू ने सदन में इस मामले को उठाते हुए कहा कि महाराष्ट्र पुलिस बिहार पुलिस का साथ नहीं दे रही है। उन्होंने कहा कि ऐसे में जांच बेहतर तरीके से नहीं हो पाएगी।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.