PM मोदी बर्थ डे : Twitter पर ट्रेंड हो रहा है राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस, जानिए वजह

17 Sep, 2020 08:38 IST|संजय कुमार बिरादर
पीएम नरेंद्र मोदी (सौजन्य सोशल मीडिया)

हैदराबाद :  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्म दिन 17 सितंबर  को माइक्रोब्लॉगिंग प्लाटफार्म ट्विटर पर राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस के रूप में ट्रेंड हो रहा है। ऐसे में यह सवाल उठना लाजमी है कि क्या है 'राष्ट्रीय रोजगार दिवस' और इसका प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से क्या संबंध है।

वास्तव में ये हैशटैग देश में बढ़ती बेरोजगारी दर के विरोध में एक अभियान है। हम सभी जानते हैं कि National Statistical Office (NSO) report के मुताबिक भारत की अप्रैल-जून पहले तिमाही जीडीपी दर 23.9 फीसदी रही है। इससे पता चलता है कि पिछले 40 साल में जीडीपी में इतनी बड़ी गिरावट दर्ज हुई है। गौरतलब है कि कोविड महामारी के बाद भारत की अर्थव्यवस्था को लेकर यह पहली रिपोर्ट आई है।

बेरोजगारी दर बढ़कर हुई 8.32

सेंटर फर मोनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी रिपोर्ट के मुताबिक पिचले एक सप्ताह के अंत तक शहरी बेरोजगारी दर बढ़कर 8.32 तक पहुंच गई है। आर्थिक मंदी और बेरोजगारी दर में बढ़ोतरी के कारण बेरोजगार युवाओं ने 17 सितंबर को राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस (National Unemployment Day) मनाने का फैसाल किया है। पूरा हफ्ता राष्ट्रीय बेरोजगार सप्ताह मनाया जाएगा। साथ ही उन्होंने पूरे हफ्ते यह दिवस मनाने का फैसला किया, लेकिन सवाल उठता है कि उन्होंने खास करके 17 सितंबर को ही क्यों चुना?
 
ट्विटर 17 सितंबर को क्यों मना रहा है राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस
वास्तव में 17 सितंबर 2020 को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन है और यही वजह है। ट्विटराटियों ने 17 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर बेरोजगारी दिवस मनाने का फैसला किया। हालांकि पिछले कुछ दिनों से ट्विटराटी भारी भर्ती प्रक्रिया में संशोधन की मांग करते हुए अपना विरोध प्रकट कर रहे हैं। इसी क्रम में ट्विटर यूजर हैशटैग #Remeber17sept करके हजारों पोस्ट कर रहे हैं जो फिलहाल जमकर ट्रेंड हो रहा है। आप भी यहां चेक कर सकते हैं।
 

Related Tweets
Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.