पाकिस्तानी नहीं पुलवामा का रहने वाला है अनंतनाग में मारा गया आतंकी, CRPF में था कॉन्स्टेबल

19 Oct, 2020 12:11 IST|Sakshi
आतंकी की पहचान अब्दुल गनी के बेटे तौसीफ अहमद पंडित के रूप में हुई है

श्रीनगर :  जम्मू कश्मीर के अनंतनाग जिले के लारूनू इलाके में शनिवार को हुई मुठभेड़ को लेकर एक नई जानकारी सामने आई है। इस मुठभेड़ में एक आतंकी को सेना के जवानों ने मार गिराया था। इसके बाद पुलिस ने आतंकी की पहचान पाकिस्तानी नागरिक के तौर पर की थी। हालांकि अब उसकी पहचान एक पूर्व सीआरपीएफ कॉन्स्टेबल के तौर पर की जा रही है। 

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो सेना की मुठभेड़ में मारा गया आतंकी दक्षिण कश्मीर में पुलवामा जिले का मूल निवासी था। मारे गए शख्स  की पहचान अब पुलवामा जिले के तलांगम गांव के के रहने वाले अब्दुल गनी के बेटे तौसीफ अहमद पंडित के रूप में हुई है। पंडित ने 2006 से 2011 के बीच 5 साल तक केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) में एक कांस्टेबल के रूप में कार्य किया।


पंडित के भाई मुहम्मद हबन ने कहा, "वह यहां कश्मीर में 181 बटालियन में तैनात था और मणिपुर में भी ड्यूटी कर चुका  था।" "घरेलू परेशानियों  के कारण सेना की नौकरी छोड़ दी।" सीआरपीएफ छोड़ने के बाद से, तौसीफ और उसका भाई  पुलवामा में एक क्रॉकरी की दुकान चला रहे थे। तौसीफ इस साल 16 अगस्त को लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) में शामिल हुआ था। शनिवार तड़के अनंतनाग जिले के लारनू इलाके में गोलाबारी हुई थी, जहां दो अन्य आतंकवादी फंस गए थे लेकिन भागने में सफल रहे। गोलाबारी के बाद, पुलिस ने कहा था कि मारे गए आतंकवादी पाकिस्तानी नागरिक और लश्कर का एक IED स्पेशलिस्ट था।

कैसे हुई आतंकी की पहचान
हबन ने बताया कि पुलिस ने इस मामले को लेकर प्रेस कान्फ्रेंस की इसके बाद सोशल मीडिया पर उसकी कुछ फोटो सामने आई। इस दौरान तौसीफ की कुछ फोटो सामने आई तो मैने ही ने उनके कुछ सामान को पहचान लिया और स्थानीय पुलिस स्टेशन पहुंचे। “वे तब तक उसे दफना चुके थे। लेकिन उन्होंने हमें उसके चेहरे की तस्वीरें दिखाईं और हमें पूरा यकीन था कि यह वास्तव में मेरा भाई था।

आईजी ने किया कंफर्म
पुलिस महानिरीक्षक (IGP) कश्मीर विजय कुमार ने पुष्टि की है कि मारे गए व्यक्ति वास्तव में पुलवामा का था। कुमार ने कहा, "वह पुलवामा के पूर्व सीआरपीएफ कर्मी और लश्कर का एक आतंकवादी था।"

सोमवार को भी आतंकियों ने किया सेना पर हमला, एक जवान घायल
जम्मू और कश्मीर के पुलवामा जिले में सुरक्षा बलों के एक संयुक्त दल पर सोमवार सुबह आतंकवादियों ने हमला कर दिया जिसमें केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) का एक जवान घायल हो गया। उसे हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है। पुलिस ने कहा कि गंगू इलाके में सीआरपीएफ और पुलिस की एक संयुक्त पार्टी पर आतंकवादियों ने गोलीबारी की। इस इलाके को तलाशी के लिए सील कर दिया गया है। इससे पहले रविवार को सीआरपीएफ का एक सहायक उप-निरीक्षक त्राल शहर में आतंकवादी हमले में घायल हो गया था।

घाटी में अब 200 से ज्यादा आतंकी एक्टिव
सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पत्रकारों को बताया कि लगभग 200 आतंकवादी अभी भी कश्मीर में सक्रिय हैं और इनमें से अधिकांश पाकिस्तान से संबंधित गैर स्थानीय लोग हैं।

Related Tweets
Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.