कौन हैं ये 2 तेजतर्रार आईपीएस जो करेंगे सुशांत केस की जांच, एक का बिहार से है नाता

7 Aug, 2020 09:22 IST|Sakshi
मनोज शशिधर और डीआईजी गगनदीप गंभीर।

गुजरात कैडर के आईपीएस ऑफिसर हैं मनोज शशिधर

कई हाईप्रोफाइल केस का हिस्सा रह चुकी हैं गगनदीप गंभीर

नई दिल्ली : सुशांत सिंह राजपूत की संदिग्ध हालत में हुई मौत के मामले में सीबीआई जांच शुरू कर दी  है।  बिहार पुलिस की रिक्वेस्ट पर सीबीआई नेगुरुवार को 6 आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की जांच अपने हाथ में ले ली। सीबीआई ने सुशांत की गर्लफ्रेंड रहीं रिया चक्रवर्ती के अलावा उनके पिता इंद्रजीत, मां संध्या, भाई शोविक, सहयोगी सैमुअल मिरांडा और श्रुति मोदी के खिलाफ केस दर्ज किया है। सीबीआई ने इस मामले की जांच के लिए एक एसआईटी का गठन किया है। इस मामले में महिला आईपीएस अधिकारी गगनदीप गंभीर भी इस टीम का हिस्सा होंगी, जो दिल्ली स्थित सीबीआई मुख्यालय में कार्यरत हैं। आइए जानते हैं कौन हैं ये 2 अफसर...

मनोज शशिधर की अगुवाई में होगी जांच
सुशांत मामले की जांच मनोज शशिधर की अगुवाई में जांच की जाएगी। मनोज शशिधर भी गुजरात कैडर के आईपीएस ऑफिसर हैं। मनोज शशिधर इसी साल जनवरी महीने में सीबीआई में ज्वाइंट डायरेक्टर की पोस्ट पर तैनात किए गए थे। इससे पहले मनोज  गुजरात में स्टेट खुफ़िया विभाग में एडिशनल डीजी पद पर कार्यरत रह चुके हैं, इसके साथ ही गुजरात में वडोदरा के कमिश्नर भी रह चुके हैं। 

कौन हैं आईपीएस गगनदीप गंभीर
 डीआईजी गगनदीप गंभीर  गुजरात कैडर की 2004 बैच की आईपीएस ऑफिसर हैं। वे बिहार के मुजफ्फरनगर की रहने वाली हैं। उनकी शुरुआती पढ़ाई लिखाई भी उसी शहर से हुई है। 10वीं के बाद से वे अपनी पढ़ाई कंप्लीट करने के लिए पंजाब चली गईं। उनकी हायर एजुकेशन भी पंजाब यूनिवर्सिटी से ही कंप्लीट हुई है। सुशांत केस जिम्मेवारी मिलने से पहले गगनदीप ने यूपी में अवैध खनन घोटाले और बिहार के सृजन घोटाले तक जैसे काफी हाईप्रोफाइल मामलों की तहकीकात कर चुकी है। 

कई हाईप्रोफाइल मामलों की कर चुकी हैं जांच
डीआईजी गगनदीप सुशांत केस की जिम्मेवारी मिलने से पहले कई हाई प्रोफाइल मामलों की जांच कर चुकी है।  एसआईटी में गगनदीप ने काफी बेहतरीन काम किया है। अगर मामलों की बात करें तो उत्तरप्रदेश में अवैध माइनिंग और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का मामला, अगस्ता वेस्टलैंड डील मामला, बिहार में हुए सृजन घोटाला सहित कई ऐसे मामले हैं, जिनकी तफ्तीश गंभीर ने की। 

31 जुलाई को सुशांत के पिता ने दर्ज कराया था केस
सुशांत की खुदकुशी के मामले में उनके पिता केके सिंह ने पटना के राजीव नगर थाना में केस दर्ज कराया था। इसके बाद पटना पुलिस के 4 अधिकारी जांच के लिए मुंबई गए थे। मुंबई गए एसपी विनय तिवारी लौट आए हैं। उन्हें बीएमसी ने क्वारंटीन कर लिया था

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.