जानिए क्या है 'खुशहाल परिवार दिवस', योगी सरकार ने की यह अनूठी पहल...

21 Nov, 2020 12:15 IST|सुषमाश्री
यूपी में खुशहाल परिवार नियोजन

क्या है खुशहाल परिवार दिवस

जिलाधिकारियों और सीएमओ को निर्देश

लखनऊ: यूपी (Uttar Pradesh) की योगी सरकार ने कई मामलों में मिसाल कायम किया है। कोरोना (CoronaVirus) काल में बदहाली के कगार पर पहुंच चुके मजदूरों के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कई नए उद्योग धंधे शुरू किए। मजदूरों को यह आश्वासन दिया कि उन्हें उनके हुनर के मुताबिक प्रदेश में ही काम दिया जाएगा। अब योगी सरकार ने प्रदेश में हर महीने खुशहाल परिवार दिवस मनाने की तैयारी की है।

योगी सरकार ने खुशहाल परिवार दिवस के व्यापक प्रचार-प्रसार को लेकर हर माह की 21 तारीख को विशेष आयोजन करने का निर्णय लिया है। इस अवसर पर राज्य से लेकर गांव तक सभी स्वास्थ्य इकाइयों पर परिवार नियोजन संबंधी गतिविधियों व जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जय प्रताप सिंह ने बताया कि वह स्वयं 21 नवम्बर 2020 को जनपद सिद्धार्थ नगर में खुशहाल परिवार दिवस के आयोजन में मौजूद रहेंगे।

क्या है खुशहाल परिवार दिवस

गौरतलब है कि मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में कमी लाने में परिवार नियोजन सेवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। समुदाय स्तर पर परिवार नियोजन को बढ़ावा देने, इसके प्रति जागरूकता लाने और इसकी स्वीकार्यता बढ़ाने के लिए प्रदेश सरकार कार्य कर रही है। इसी क्रम में प्रदेश की योगी सरकार ने हर माह की 21 तारीख को खुशहाल परिवार दिवस का आयोजन करने का निर्णय लिया है। इसके पीछे सरकार की मानसिकता यह है कि प्रदेश की जनता को परिवार नियोजन कार्यक्रमों के प्रति जागरुक किया जा सके। साथ ही इसके फायदों से भी इन्हें रूबरू कराने की कोशिश की जाएगी।

जिलाधिकारियों और सीएमओ को निर्देश

इस संबंध में मिशन निदेशक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अपर्णा उपाध्याय ने जानकारी दी है कि प्रदेश स्तर पर सभी जनपदों के जिलाधिकारियों और मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को इस आयोजन के लिए दिशा-निर्देश दे दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में कमी लाने में परिवार नियोजन महत्वपूर्ण है। प्रदेश सरकार इन सेवाओं को समुदाय स्तर पर लक्ष्य निर्धारित कर इसकी स्वीकार्यता बढ़ाने पर ध्यान केन्द्रित कर रही है। इसके लिए जनपद में हर ब्लॉक पर 10 दम्पत्ति की काउंसलिंग का लक्ष्य दिया गया है। टारगेट ग्रुप में आने वाली सभी महिलाओं की लाइन लिस्टिंग शहरी एवं ग्रामीण समुदाय में आशा कार्यकर्ता द्वारा की जाएगी

मिशन निदेशक ने यह भी बताया है कि ग्राम्य स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस (वीएचएनडी) अगर 21 तारीख को है तो इसके आयोजन में परिवार नियोजन के साधनों को केन्द्रित करते हुए 'खुशहाल परिवार दिवस' वृहद रूप में मनाया जाएगा। यह दिवस प्रतिमाह 21 तारीख को मनाया जाएगा और इस तिथि पर यदि कोई राष्ट्रीय अवकाश होगा तो अगले कार्य दिवस पर इसका आयोजन किया जाएगा।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.