पत्रकार राजीव शर्मा ने चीन को भेजी थी सेना की गुप्त जानकारी, बदले में मिली थी लाखों की रकम

19 Sep, 2020 16:46 IST|Sakshi
राजीव शर्मा के साथ एक चाइनीज महिला और उसके नेपाली दोस्त को भी गिरफ्तार किया गया है।

नई दिल्ली : दिल्ली पुलिस ने शनिवार को एक फ्रीलांसर पत्रकार राजीव शर्मा को गिरफ्तार किया है। राजीव 2016 से 2018 तक चीनी खुफिया अधिकारियों को संवेदनशील रक्षा और रणनीतिक जानकारी देने में शामिल थे। पुलिस का कहना है कि एक चीनी महिला और उसके नेपाली साथी को भी गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने दावा किया कि वे ‘‘चीनी खुफिया एजेंसी'' को संवेदनशील सूचना देने के एवज में फ्रीलांसर पत्रकार राजीव शर्मा को बड़ी राशि का भुगतान कर रहे थे। पुलिस ने बताया, ‘‘पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने फ्रीलांसर पत्रकार राजीव शर्मा को चीनी खुफिया एजेंसी को संवेदनशील सूचना देने के आरोप में गिरफ्तार किया है।

पत्रकार को मुखौटा कंपनियों के जरिये बड़ी राशि का भुगतान करने के आरोप में एक चीनी महिला और उसके नेपाली साथी को भी गिरफ्तार किया गया है। चीनी खुफिया एजेंसी ने पत्रकार को संवेदनशील सूचनाएं देने और बदले में बड़ी राशि लेने को कहा था।'' उन्होंने बताया, ‘‘बड़ी संख्या में मोबाइल फोन, लैपटॉप और अन्य आपत्तिजनक/संवेदनशील सामग्री बरामद की गई है।'' 

राजीव शर्मा से पूछताछ के बाद गिरफ्तार किए गए उनके दो सहयोगी- एक चीनी महिला और नेपाली पुरुष दिल्ली के महिपालपुर में एक कंपनी चलाते हैं, जहां से वे चीन को दवाएं निर्यात करते थे। चीन से भेजा गया पैसा शेल कंपनियों के जरिये यहां से एजेंटों को दिया जाता था। डीसीपी संजीव कुमार यादव ने बताया कि जांच के अनुसार, पिछले 1 साल में 40-45 लाख रुपये का लेन-देन हुआ है। 

पुलिस ने बताया कि शर्मा पीतमपुरा के रहने वाले हैं और दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने उन्हें गिरफ्तार किया है। पुलिस उपायुक्त (विशेष प्रकोष्ठ) संजीव कुमार यादव ने शुक्रवार कहा , ‘‘उनके पास रक्षा से जुड़े कुछ गोपनीय दस्तावेज बरामद हुए है। मामले की जांच चल रही और आगे की जानकारी बाद में दी जाएगी।''

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.