UP में 20 हजार से ज्यादा को मिलेगा रोजगार, 6 हजार करोड़ की लागत से बन रहा डेटा सेंटर

1 Dec, 2020 15:46 IST|सुषमाश्री
उत्तर प्रदेश के नोएडा में बनेगा डेटा सेंटर

लखनऊ: उत्तर प्रदेश लगातार पूरी तरह से आत्मनिर्भर होने की कोशिश कर रही है। इसी क्रम में जून 2022 तक विदेश में डेटा रखने की निर्भरता को समाप्त करते हुए उत्तर प्रदेश को अपना पहला डेटा सेंटर भी मिलने वाला है। यह नोएडा में होगा।

बता दें कि अब गूगल, अमेजन, फेसबुक, यूट्यूब और सेंट्रल कार्ट जैसी बड़ी कंपनियां उत्तर प्रदेश में ही अपना डेटा रखेंगी। नोएडा में यह डेटा सेंटर लगभग 6,000 करोड़ रुपये के निवेश के साथ शुरू किया जा रहा है।

दो हजार युवाओं को मिलेगा रोजगार

250 मेगावाट की क्षमता वाला यह डेटा सेंटर पार्क 2,000 युवाओं को प्रत्यक्ष रोजगार प्रदान करेगा। उत्तर भारत के इस सबसे बड़े डेटा सेंटर के माध्यम से, 20,000 से अधिक लोग अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार और व्यापार के अवसर प्राप्त करने वाले हैं।

उत्तर प्रदेश और अन्य जगहों पर काम करने वाली आईटी कंपनियों को भी अपना व्यवसाय करने में मदद मिलेगी। यह अत्याधुनिक तकनीक और सुविधाओं से लैस अपनी तरह का पहला डेटा सेंटर पार्क होगा।

20 एकड़ के डेटा सेंटर का हो रहा निर्माण

बता दें ​कि कोरोना महामारी के दौरान पूरी परियोजना की अवधारणा रखी गई है और इसका कार्यान्वयन भी किया गया है। बता दें कि मुंबई के हीरानंदानी ग्रुप ने 20 एकड़ के डेटा सेंटर का निर्माण शुरू किया है।

मुंबई, चेन्नई और हैदराबाद में डेटा केंद्र स्थापित करने के बाद, हीरानंदानी समूह अब राज्य में पहला और उत्तरी भारत में सबसे बड़ा डेटा केंद्र भी बनाएगा। डेटा सेंटर क्षेत्र में निवेश करने के लिए, रैक बैंक, अदानी समूह और अर्थ कंपनीज ने राज्य सरकार को 10,000 करोड़ रुपये के भारी निवेश का प्रस्ताव दिया है।

डेटा सेंटर नेटवर्क से जुड़े कंप्यूटर सर्वर का बड़ा समूह

सरकार के प्रवक्ता के अनुसार, देश में डेटा केंद्रों की कमी के कारण, प्रमुख कंपनियां विदेशों में अपना डेटा स्टोर करती हैं। एक डेटा सेंटर एक नेटवर्क से जुड़े कंप्यूटर सर्वर का एक बड़ा समूह है। इसका उपयोग कंपनियों द्वारा बड़ी मात्रा में डेटा भंडारण, प्रसंस्करण और वितरण के लिए किया जाता है। राज्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि यह उत्तर भारत का सबसे आधुनिक और बड़ा डेटा सेंटर होगा। आने वाले समय में राज्य के अन्य हिस्सों में भी इस तरह के डेटा सेंटर बनाए जाएंगे।

-आईएएनएस

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.