कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच उत्तराखंड सीएम का ऐलान- होगा कुंभ मेला

23 Nov, 2020 08:20 IST|अंजू वशिष्ठ

देहरादून : कोरोना वायरस के कारण बने हालातों के बीच साल 2021 में कुंभ मेला(Kumbh Mela) आयोजन को लेकर चर्चाएं शुरू हो रही हैं। हरिद्वार(Haridwar) में कुंभ मेला-2021 की तैयारियां हो रही हैं। कोरोना वायरस के कारण गंभीर बने हुए हालातों के बावजूद उत्तराखंड सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत(Trivendra singh rawat) ने रविवार को कहा कि कुंभ मेला अपने "दिव्य रूप" में 2021 में हरिद्वार में आयोजित किया जाएगा। 

एक तरफ देश में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। माना जा रहा है कि देश में दूसरी कोरोना वेव दस्तक दे रही है। इसी बीच कुंभ मेला-2021 की तैयारियां की जा रही हैं। 14 जनवरी से शुरू होने वाले 2021 कुंभ मेले की तैयारियों को लेकर रविवार को रावत अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद (ABAP) के पदाधिकारियों के साथ बैठक में शामिल हुए।

सीएम ने दिए तय समय पर तैयारी के आदेश

उत्तराखंड सीएम का कहना है कि 'कुंभ मेले की सीमा उस समय की COVID-19 की स्थिति पर निर्भर करेगी। ABAP और धार्मिक बिरादरी के सुझावों को भी निर्णयों में लिया जाएगा, जो मौजूदा स्थिति के मुताबिक लिया जाएगा। राज्य सरकार का उद्देश्य ये सुनिश्चित करना होगा कि श्रद्धालुओं को किसी भी तरह की असुविधा का सामना न करना पड़े”। 

कुंभ मेला-2021 के कार्यों की समय-समय पर समीक्षा की जा रही है। विभागीय सचिवों को लगातार प्रगति के तहत कामों की निगरानी करने के लिए निर्देशित किया गया है। मुख्य सचिव को 15 दिनों में स्थिति की समीक्षा करने का भी निर्देश दिया गया है।

जल्द पूरी होंगी तैयारियां 
कुंभ मेला अधिकारी दीपक रावत ने कहा कि अधिकांश कार्यों को 15 दिसंबर तक पूरा कर लिया जाएगा। ”कुंभ मेले के लिए बनाए जा रहे नौ नए घाटों (नदी के किनारे), आठ पुलों और सड़कों पर काम पूरा होने वाला है। पेयजल सुविधा, पार्किंग सुविधा और अतिक्रमण हटाने पर भी लगातार काम किया जा रहा है।

गंगा स्नान के लिए रोजाना आएंगे लाखों श्रद्धालु
उतमुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा जारी एक प्रेस रिलीज के मुताबिक, शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि कुंभ मेले के दौरान श्रद्धालुओं को कोई समस्या न हो इसके लिए सुनियोजित व्यवस्था की जाएगी। ABAP प्रमुख महंत नरेंद्र गिरि ने सरकार को आश्वासन दिया कि कुंभ मेले के सफल आयोजन के लिए निकाय राज्य सरकार के साथ पूरा सहयोग करेंगे। कौशिक ने कहा कि कुंभ मेला-2021 के दौरान गंगा में प्रतिदिन 35 से 50 लाख लोगों के पवित्र स्नान करने की उम्मीद है। 

शाही स्नान की तारीखों का ऐलान

उत्तराखंड सरकार ने 2021 में होने वाले हरिद्वार कुंभ मेले से पहले प्रमुख स्नान पर्वों और शाही स्नान की तारीखों का ऐलान कर दिया है। धर्मगुरुओं और अखाड़ों की सहमति के बाद हुई एक उच्च स्तरीय बैठक में सरकार ने तारीखों की घोषणा की है।

अधिकारियों के मुताबिक, कुंभ मेले में शाही स्नान की शुरुआत शिवरात्रि से होगी। इस क्रम में 11 मार्च 2021- महाशिवरात्रि, 12 अप्रैल 2021- सोमवती अमावस्या, 14 अप्रैल 2021- बैसाखी और 27 अप्रैल 2021- चैत्र पूर्णिमा के दिन पूरे विधि विधान से शाही स्नान का क्रम संपन्न होगा। इसके अलावा श्रद्धालु 14 जनवरी 2021- मकर संक्रांति, 11 फरवरी 2021- मौनी अमावस्या, 16 फरवरी 2021- बसंत पंचमी, 27 फरवरी 2021- माघ पूर्णिमा, 13 अप्रैल 2021- चैत्र शुक्ल प्रतिपदा और 21 अप्रैल 2021- राम नवमी के प्रमुख स्नान पर्वों में भी हिस्सा लेंगे।

राज्य में कोरोना की मौजूदा स्थिति

उत्तराखंड में स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी बुलेटिन के मुताबिक प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या बढ़कर 71,256 हो गयी है। हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक ताजा मामलों में से सर्वाधिक 181 संक्रमित देहरादून जिले में मिले जबकि पौड़ी गढ़वाल में 65, हरिद्वार में 53 और नैनीताल में 40 मरीज सामने आए। कुल मिलाकर अबतक राज्य में 1,155 लोगों की जान इस महामारी में जा चुकी है।

Related Tweets
Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.