भारत की तरफ बढ़ रहा इस साल का चौथा चक्रवाती तूफान, भारी बारिश का अलर्ट जारी

2 Dec, 2020 08:49 IST|मो. जहांगीर आलम
फोटो : सौ. सोशल मीडिया

कहा कहां से गुजरेगा तूफान 

इन जगहों पर भारी बारिश की आशंका

मछवारों को समुद्र में जाने से मना किया

हैदराबाद :  बंगाल की खाड़ी पर गहरे दबाव के क्षेत्र ने मजबूत होकर मंगलवार को चक्रवाती तूफान ‘बुरेवी’ का रूप ले लिया। भारतीय मौसम विभाग का कहना है कि तूफान 'बुरेवी' दो दिसंबर की शाम या रात को त्रिंकोमाली के निकट श्रीलंका तट से गुजरने का पूर्वानुमान है।

आईएमडी ने एक बुलेटिन में कहा कि श्रीलंका के त्रिंकोमाली पहुंचने के बाद बुरेवी के मन्नार की खाड़ी और तमिलनाडु में कन्याकुमारी के आसपास कोमोरिन इलाके की ओर आने की आशंका है। इस दौरान 75 से 85 से किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलेगी। 

कहा कहां से गुजरेगा तूफान 

मौसम विभाग ने बताया कि उसके बाद वो पश्चिम-दक्षिण पश्चिम की ओर बढ़ेगा और चार दिसंबर की सुबह कन्याकुमारी और पम्बन के बीच दक्षिण तमिलनाडु तट को पार करेगा। इससे पहले मौसम विभाग ने कहा था कि दक्षिण तमिलनाडु और दक्षिण केरल में तीन दिसंबर को कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है।

इन जगहों पर भारी बारिश की आशंका

मौसम विभाग ने अगले 12 घंटों के दौरान बंगाल के दक्षिण-पश्चिम खाड़ी में चक्रवाती तूफान बुरेवी के और तेज होने की संभावना जताई है। दक्षिण-तमिलनाडु (कन्याकुमारी, तिरुनेलवेली, थुथुकुडी, तेनकासी, रामनाथपुरम और शिवगंगई) पर 2 से 3 दिसंबर को कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है। इसके अलावा उत्तर तमिलनाडु, पुडुचेरी, माहे और कराईकल और उत्तर केरल में 2 और 3 दिसंबर को अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश की संभावना है। 

इसे भी पढ़ें :

निवार के बाद अब 'बुरेवी' का मंडराया खतरा, मौसम विभाग ने दी जानकारी​

मछवारों को समुद्र में जाने से मना किया

मौसम विभाग ने मछवारों को 4 दिसंबर तक समुद्र में जाने से मना किया है। मछुआरों को सलाह दी गई है कि वो बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पूर्वी हिस्से में और दक्षिण-पश्चिम हिस्से एवं पूर्वी श्रीलंका तट से दूर ही रहें। इसके अलावा लक्षद्वीप-मालदीव क्षेत्र और आसपास के दक्षिण-पूर्वी अरब सागर में तीन से चार दिसंबर तक न जाने की सलाह दी गई है।

भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक, इस तूफान से अगले 36 घंटे में दक्षिणी तटीय आंध्र प्रदेश में भी हल्की से भारी बारिश हो सकती है या कुछ जगहों पर मूसलाधार बारिश हो सकती है। 

Related Tweets
Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.