अंतिम चरण में देसी कोरोना वैक्सीन, एक-दो दिन में शुरू होगा तीसरा ट्रायल

18 Aug, 2020 19:39 IST|संजय कुमार बिरादर
कॉंसेप्ट इमेज

देशभर में 3, 09,41,264 कोरोना टेस्ट पूरे

स्वस्थ हो चुके 19,77,779 लोग 

नई दिल्ली : भारत में विकसित की जा रही तीन कोरोना वैक्सीन विभिन्न चरणों में है और उनमें से एक वैक्सीन अगले एक-दो दिन में तीसरे चरण के ट्रायल पहुंच जाएगी। नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कोरोना वैक्सीन को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा स्वतंत्रता दिवस पर देशवासियों को दिए गए आश्वासन के  मुताबिक कदम आगे बढ़ रहे हैं। 

 देशभर में 3, 09,41,264 कोरोना टेस्ट पूरे
इस बीच, स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि अब तक देशभर में 3, 09,41,264 कोरोना टेस्ट किए जा चुके हैं और सोमवार को एक ही दिन में 9 लाख टेस्ट किए गए।
स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कोविड-19 के प्रतिदिन नए मामलों और बीमारी के कारण होने वाली मौत के मामलों में 13 अगस्त से गिरावट देखी गई है। हालांकि मंत्रालय ने कोई ढिलाई बरते जाने को लेकर चेतावनी दी और कहा कि पांच दिन की गिरावट महामारी के संदर्भ में एक छोटी अवधि है। 

स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने प्रेस वार्ता में कहा कि प्रति दिन सात से आठ लाख जांच के सतत स्तर के बावजूद, सक्रिय मामलों का आंकड़ा 10.03 प्रतिशत से घटकर 7.72 प्रतिशत हो गया है। भूषण ने कहा, ‘‘13 अगस्त से प्रतिदिन नये मामलों की संख्या अब लगभग 64 हजार से कम होकर 55,079 हो गई है। इसमें गिरावट का रुझान है। लेकिन महामारी के संदर्भ में पांच दिन का समय छोटी अवधि है और नियंत्रण, जांच और निगरानी में शिथिलता के लिए कोई जगह नहीं है।''

इसे भी पढ़ें : 

Corona Vaccine : रूस के ‘स्पूतनिक वी’ वैक्सीन का उत्पादन शुरू, जानिए भारत में कब आएगी वैक्सीन ?

स्वस्थ हो चुके 19,77,779 लोग 

उन्होंने कहा कि इस महामारी से स्वस्थ हुए लोगों की संख्या 20 लाख के करीब पहुंच गई है जो कोरोना वायरस संक्रमण के सक्रिय मामलों की संख्या की तुलना में स्वस्थ हुए लोगों की संख्या 2.93 गुना अधिक है। उन्होंने कहा, ‘‘इस बीमारी से अब तक 19,77,779 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। इस समय 6,73,166 मरीजों का इलाज चल रहा है और वे चिकित्सा देखरेख में हैं।'' भूषण ने कहा कि मामले की मृत्यु दर भी दो प्रतिशत से नीचे आ गई है। उन्होंने कहा, ‘‘प्रतिदन मामले की मृत्यु दर घटकर 1.92 प्रतिशत और साप्ताहिक औसत मृत्यु दर 1.94 प्रतिशत हो गई है। दोनों दो फीसदी से नीचे हैं।'' 

Related Tweets
Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.