ये 28 विदेशी कंपनियां UP में करेंगी नौ हजार करोड़ का निवेश, लाखों को मिलेगा रोजगार

25 Nov, 2020 15:35 IST|Sakshi
योगी आदित्यनाथ।

लखनऊ :  कोरोना काल में जब वैश्विक स्तर पर मंदी छायी थी, उस समय उत्तर प्रदेश (Uttar pradesh) देशी-विदेशी कंपनियों की पहली पसंद बना। कोरोना काल के दौरान देशी-विदेशी 57 कंपनियों ने 46 हजार 501 करोड़ रुपए के निवेश के लिए प्रदेश सरकार से करार किया है। इन कंपनियों में उत्पादन शुरू होने पर प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से लाखों लोगों को रोजगार मिलेगा।

28 विदेशी कंपनियों ने 9357 करोड़ का रुपए के निवेश का करार
राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि प्रदेश में सिर्फ कोरोना काल में 28 विदेशी कंपनियों ने 9,357 करोड़ रुपए के निवेश के लिए करार किया है। इसमें एक जूता बनाने वाली कंपनी ऐसी है, जो चीन से शिफ्ट होकर भारत आई है और तीन सौ करोड़ के निवेश से आगरा में उत्पादन शुरू कर दिया है। इसके अलावा 37 हजार 144 करोड़ रुपए का निवेश करने के लिए घरेलू 29 कंपनियों ने करार किया है।

इन देशों की कंपनियों ने किया निवेश

कहां की कंपनियां  निवेश
जापान      7  2000 करोड़
कनाडा     2 1746 करोड़
सिंगापुर    2 1600 करोड़
यूके         3  1375 करोड़
हांगकांग   1  1000 करोड़
कोरिया     4   928 करोड़
यूएस        5   309 करोड़
जर्मनी       4   300 करोड़

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विभिन्न विभागों की नीतियां बनाने से लेकर श्रम कानूनों में दर्जनों सुधार किए। जिस वजह से देश में 'ईज ऑफ डूइंग बिजनेस' में प्रदेश दूसरे पायदान पर पहुंच गया है। यह वजह है कि देश में उद्यमियों की पहली पसंद यूपी बन गया है

बिजनेसमैन को साढ़े आठ सौ  प्लाट किए गए आवंटित
कोरोना काल में उद्यमियों को साढ़े आठ सौ प्लॉट आवंटित किए गए हैं। इसके अलावा यमुना एक्सप्रेस वे के किनारे सेक्टर 28 में साढ़े तीन सौ एकड़ में डेडिकेटेड मेडिकल डिवाइस पार्क प्रस्तावित है, जिसके लिए विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार करने के लिए कलाम इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ टेक्नोलॉजी के साथ एमओयू किया गया है। मुख्यमंत्री ने दो माह के अंदर सभी उद्यमियों को भौतिक रूप से कब्जा दिलाने के निर्देश दिए हैं, ताकि जल्द से जल्द प्रोजेक्ट धरातल पर उत्पादन शुरू कर सकें।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.