सोनिया का दशहरे पर संदेश, 'नेतृत्वकर्ता के जीवन में अहंकार और वादाखिलाफी की जगह नहीं'

25 Oct, 2020 17:53 IST|Sakshi
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ( फोटो : सौ. सोशल मीडिया)

विजयादशमी का सबसे बड़ा संदेश जनता सर्वोपरि

लोगों को कोरोनो वायरस से बचने की अपील 

नई दिल्ली : कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने रविवार को विजयदशमी के अवसर पर देशवासियों को शुभकामनाएं दीं। उन्होंने अपने संदेश में कहा कि नौ दिवसीय पूजा उत्सव अन्याय और अहंकार पर विजय का प्रतीक है।

केंद्र सरकार पर हमला करते हुए, उन्होंने कहा, विजयादशमी का सबसे बड़ा संदेश ये है कि जनता सर्वोपरि है और शासक के जीवन में अहंकार, झूठ और वादों को तोड़ने के लिए कोई जगह नहीं है।

उन्होंने आशा जताई की कि यह दशहरा न केवल सभी के जीवन में सुख, शांति और समृद्धि लाएगा, बल्कि लोगों के बीच सद्भाव और सांस्कृतिक मूल्यों को भी मजबूत करेगा।

उन्होंने त्योहारों के दौरान लोगों को कोरोनो वायरस से बचने और सभी कोविड-19 दिशानिदेशरें का पालन करने की भी अपील की। कांग्रेस नेता राहुल गांधी, कांग्रेस महासचिव (संगठन) केसी वेणुगोपाल, मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला और प्रियंका गांधी वाड्रा समेत पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं ने लोगों को दशहरा की शुभकामनाएं दीं।

इसे भी पढ़ें : 

सोनिया गांधी का पीएम मोदी पर हमला, कहा- सबसे मुश्किल समय से गुजर रहा है देश का लोकतंत्र​

अब तो वक्त ही बताएगा कि कितना सही है सोनिया-प्रियंका का यह सियासी दांव...!

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.