कहां हैं गहलोत के सात मंत्री और पांच विधायक, जानिए क्यों थमी हुई हैं सांसे ?

1 Aug, 2020 10:28 IST|Sakshi
कॉन्सेप्ट फोटो (सौजन्य सोशल मीडिया)

गहलोत के सात मंत्री और पांच विधायकों पर सस्पेंस

ये सभी 11 लोग अभी तक नहीं पहुंचे जैसलमेर

नई दिल्ली : राजस्थान में सियासी घमासान जारी है। राज्यपाल कलराज मिश्र के अनुमति देने के बाद अब कांग्रेस विधानसभा सत्र की तैयारी मे जुट गई है। राजस्थान की सियासत में अब हर रोज नए नए सस्पेंस सामने आ रहे हैं। राजस्थान की सियासत का केन्द्र फिलहाल जैसलमेर बन चुका है। फिलहाल तो अशोक गहलोत खेमे की सांसे अटकी हुई हैं। इसकी वजह है कि बीते शुक्रवार को इनकी टीम के कुछ विधायकों और मंत्रियों ने सस्पेंस पैदा कर दिया है। दरअसल जैसलमेर के होटल शिफ्ट हुए विधायकों में कुल 11 विधायक और मंत्री नहीं पहुंचे। इन्हे होटल फेयरमाउंट से जैसलमेर के होटल सूर्यागढ़ शिफ्ट किया गया था। 

11 विधायकों को लेकर सस्पेस जारी 

अब तक की जानकारी के मुताबिक इन 11 विधायकों को लेकर सस्पेस बना हुआ है। जैसलमेर पहंचने वाले विधायकों में कुल सात विधायक और पांच मंत्री शामिल नहीं हुए। ऐसा बताया जा रहा है कि शनिवार को ये सभी जैसलमेर पहुंचेंगे। इनमें मंत्री रघु शर्मा, प्रतापसिंह, लालचंद कटारिया,  अशोक चांदना, उदयलाल आंजना और विधायक अमित चाचाण, जगदीश जांगिड़, परसराम मोरदिया,  बलवान पूनियां, और बाबूलाल बैरवा के नाम शामिल हैं। 

जैसलमेर के होटल सूर्यागढ़में हो रहा इंतजार

ऐसा बताया जा रहा है कि इन सभी को जैसलमेर ले जाने के लिए तीन चार्टर्ड प्लेन बुक किए गए थे। इनमें से एक तकनीकी खराबी के कारण  2 विधायक छूट गए थे जबकि उनका सामान पहले के विमान में पहुंच गया था। जबकि अन्य मंत्रियों और विधायकों के न पहुंचने के पीछ अलग अलग कारण बताए जा रहे हैं। वहीं ऐसा भी माना जा रहा है कि केन्द्रीय एजेंसियां पिछले कई दिनों से जयपुर में अलर्ट मोड पर हैं। जिसको लेकर राज्य सरकार को बड़ी कार्वाई का अंदेशा है।
 

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.