विश्वास प्रस्ताव पर बहस जारी, सीट बदलने पर पायलट बोले - सरहद पर सबसे मजबूत सिपाही को भेजा जाता है

14 Aug, 2020 15:18 IST|Sakshi
सचिन पायलट

जयपुर ; राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने शुक्रवार को राज्य विधानसभा में विश्वास मत प्रस्ताव पेश किया। सरकार की ओर से संसदीय कार्यमंत्री शांति धारीवाल ने प्रस्ताव पेश किया। प्रस्ताव पर बहस की शुरुआत करते हुए धारीवाल ने कहा कि केंद्र की सरकार के इशारों पर मध्य प्रदेश व गोवा में चुनी हुई सरकारों को गिराया गया है। धारीवाल ने कहा कि धन बल व सत्ता बल से सरकारें गिराने का यह षडयंत्र राजस्थान में कामयाब नहीं हो सका। सदन में इस प्रस्ताव पर बहस हो रही है। अब अगले तीन घंटे तक इस प्रस्‍ताव पर बहस होगी। इससे पहले, भाजपा नेता राजेंद्र राठौड़ ने सचिन पायलट की सीट को लेकर तंज कसा।

पायलट ने दिया करारा जवाब
इस पर पायलट ने खड़े होकर कहा, 'आज मैं सदन में आया तो देखा कि मेरी सीट पीछे रखी गई है। मैं आखिरी कतार में बैठा हूं। मैं राजस्थान से आता हूं, जो कि पाकिस्तान बॉर्डर पर है। बॉर्डर पर सबसे मजबूत सिपाही तैनात रहता है। मैं जब तक यहां बैठा हूं, सरकार सुरक्षित है।'

सचिन पायलट ने कहा कि समय के साथ सभी बातों का खुलासा होगा, जो कुछ कहना था सुनना था, चाहे मैं हूं या मेरा कोई साथी हो .. हम लोगों को जिस डाक्टर के पास अपने मर्ज को बताना था वो बता दिया...इलाज कराने के बाद हम सब लोग आज... सवा सौ लोग सदन में खड़े हैं। सदन में जब हम सब लोग आए हैं तो कहने सुनने वाली बातों से परे हटकर आज वास्तविकता पर ध्यान देना पड़ेगा।' पायलट ने कहा, ‘‘हमने कल जब संकल्प लिया बैठकर बातें की और सारी बातें खत्म हो गयीं। जब आज हमने सदन में प्रवेश किया है तो इस सरहद पर कितनी भी गोलाबारी हो हम सब लोग और मैं कवच और ढाल ... गदा और भाला बनकर यहां पर इसे सुरक्षित रखूंगा ... ये मैं आपको बताना चाहता हूं।''

पायलट खेमे के विधायक ने कल की सीएम से मुलाकात
उल्लेखनीय है कि आलाकमान के हस्तक्षेप के बाद ही पायलट व उनके खेमे के 18 विधायक बृहस्पतिवार को कांग्रेस विधायक दल की बैठक में शामिल हुए। इससे पहले पायलट ने मुख्यमंत्री गहलोत से अलग से मुलाकात भी की थी। 

बहुमत को लेकर कांग्रेस पूरी तरह आश्वस्त
इससे पहले रघु शर्मा ने कहा था कि बहुमत को लेकर कांग्रेस पूरी तरह से आश्‍वस्‍त है। दूसरी तरफ, बीजेपी नेता गुलाबचंद कटारिया ने स्‍पष्‍ट किया है कि उनकी पार्टी अविश्‍वास प्रस्‍ताव नहीं लाएगी। वहीं, विधानसभा की कार्यवाही में शामिल होने के लिए सचिन पायलट के साथ ही कांग्रेस के अन्‍य दिग्‍गज नेता और मंत्री सदन पहुंचे। इस बीच, दिवंगतों को श्रद्धांजलि देने के साथ ही विधानसभा की कार्यवाही दोपहर 1 बजे तक के लिए स्‍थगित कर दी गई।

Liveblog

Liveblog

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.