बहरीन यात्रा पर विदेश मंत्री जयशंकर, PM शहजादे खलीफा के निधन पर जताया शोक

25 Nov, 2020 13:27 IST|अंजू वशिष्ठ
(फोटो सौ. सोशल मीडिया)

मनामा: विदेश मंत्री(Foreign minister) एस. जयशंकर ने भारत के लोगों और सरकार की ओर से बहरीन(Bahrain) के प्रधानमंत्री शहजादे खलीफा बिन सलमान अल खलीफा के निधन पर बहरीन के नेतृत्व को शोक व्यक्त किया। वो इस खाड़ी देश(Gulf countries) की दो दिवसीय यात्रा पर आए हुए हैं।

शहजादे खलीफा का 11 नवंबर को 84 साल की उम्र में अमेरिका में इंतकाल हो गया था, जहां उनका उम्र संबंधी बीमारियों का इलाज चल रहा था। उन्हें 13 नवंबर को सुपुर्द-ए-खाक किया गया था। वो प्रधानमंत्री पद पर सबसे ज्यादा समय तक सेवा देने वाले दुनिया के चंद नेताओं में शामिल हैं। 

एस. जयशंकर ने मंगलवार रात ट्वीट," विदेश मंत्री डॉ अब्दुल लतीफ बिन राशिद अल ज़यानी के साथ बैठक के साथ बहरीन की यात्रा शुरू हुई। पूर्व प्रधानमंत्री शहजादे खलीफा बिन अल खलीफा के निधन पर शोक व्यक्त किया।" बहरीन में भारतीय दूतावास ने 13 नवंबर को शहजादे खलीफा के निधन पर एक शोक सभा का आयोजन किया था। 

शाह हम्माद बिन ईसा अल खलीफा के चाचा, शाहजादे खलीफा ने 1970 में प्रधानमंत्री का औहदा संभाला था और अपने निधन तक इस पद पर काबिज रहे। वो 1971 में बहरीन के स्वतंत्र होने से एक साल पहले ही प्रधानमंत्री बन गए थे।

बहरीन की 24-25 नवंबर को दो दिवसीय यात्रा कर रहे जयशंकर ने बहरीन के अपने समकक्ष अब्दुल लतीफ बिन राशिद अल जयानी के साथ द्विपक्षीय मुद्दों के साथ-साथ आपसी हित के क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा की। 

इसके साथ ही भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कोरोना काल में भारती मूल के लोगों का खास ख्याल रखने के लिए बेहरीन देश का धन्यवाद किया है। गौरतलब है कि बहरीन में 3,50,000 से ज्यादा भारतीय रहते हैं। दोनों देश कोरोना महामारी से लड़ने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं।

बतां दें कि विदेश मंत्री बहरीन, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और सेशेल्स की छह दिवसीय यात्रा पर हैं। कोरोना वायरस महामारी के दौर में होने वाली इस यात्रा को काफी अहम माना जा रहा है। बेहरीन के बाद विदेश मंत्री का अगला गंतव्य संयुक्त अरब अमीरात होगा। यात्रा के अंतिम चरण में विदेश मंत्री सेशेल्स जाएंगे

Related Tweets
Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.