2021 की शुरूआत से मिलने लगेगी कोरोना वैक्सीन, इस कंपनी ने किया दावा

25 Sep, 2020 09:36 IST|संजय कुमार बिरादर
कॉसेप्ट इमेज

बीजिंग : दुनियाभर के देशों में कोरोना वायरस के मामलों की रफ्तार और तेज होती दिख रही है। ऐसे में एक चीनी कंपनी ने कहा कि वर्ष 2021 तक कोरोना वैक्सीन आ जाएगी और अमेरिका, यूरोपीय देश सहित दुनियाभर में इसका वितरण किया जाएगा।

चीनी दवा कंपनी सिनोवैक के मुख्य कार्याधिकारी यिन वीडोंग ने यदि ‘कोरोनावैक' टीका तीसरे और अंतिम चरण के मानव परीक्षण में खरा उतरता है तो कोरोनावैक को अमेरिका में बेचने के लिए अमेरिकी स्वास्थ्य सेवा नियामक ‘यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन' के पास आवेदन किया गया है।
उन्होंने बताया कि उन्होंने व्यक्तिगत रूप से खुद प्रायोगिक टीका लिया है।

अमेरिका सहित यूरोपीय देश के नियमों के चलती लगी रोक

यिन ने कहा, "शुरुआत में, हमारी रणनीति चीन के लिए और वुहान के लिए वैक्सीन बनाने की थी। इसके तुरंत बाद जून और जुलाई में हमने अपनी रणनीति को समायोजित किया, जो कि अब पूरी दुनिया में कोरोना वायरस का सामने कर रहे लोगों के लिए है। 

उन्होंने कहा कि चाहते हैं कि पुरी दुनिया को वैक्सीन प्रदान करना है जिसमें अमेरिका, यूरोपीय संघ और अन्य देश शामिल हैं," अमेरिकी, यूरोपीय संघ, जापान और ऑस्ट्रेलिया में सख्त नियमों के चलते चीनी टीकों की बिक्री को रोक लगी हुई है। हालांकि यिन को उम्मीद है कि नियमों में बदलाव कर सभी को टीका देना संभव है।

24,000 से ज्यादा लोग ट्रॉयल में शामिल
 
चीनी सरकार की स्वामित्व वाली दवा कंपनी सिनोवैक सिनोफार्मा के साथ चीन के शीर्ष चार वैक्सीन विकसित करने वाली कंपनियों में से एक है। ब्राज़ील, तुर्की और इंडोनेशिया में CoronaVac के शुरुआती ​​परीक्षणों में 24,000 से अधिक लोग भाग ले रहे हैं।  सिनोवैक कंपनी ने वैक्सीन के परीक्षण के लिए उन देशों को चुना है जहां गंभीर प्रकोप, बड़ी आबादी और सीमित अनुसंधान और विकास क्षमता थी।

इसे भी पढ़ें : 

कोरोना वायरस: देश में मामले 57 लाख और मौतें 91 हजार के पार, निजी अस्पतालों पर कसा शिकंजा 

उन्होंने बीजिंग में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण फैलने के बाद कुछ महीनों में निर्मित, संयंत्र को SinoVac को एक साल में आधा मिलियन वैक्सीन खुराक का उत्पादन करने में सक्षम बनाने के लिए डिज़ाइन किया गया है। कंपनी ने कहा कि वह अगले साल फरवरी या मार्च तक वैक्सीन की कुछ सौ मिलियन खुराक का उत्पादन करने में सक्षम होगी।

Related Tweets
Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.