ऑक्सफर्ड वैक्सीन के ट्रायल के दौरान ब्राजील में एक वॉलंटियर की मौत, नहीं रूकेगा ट्रायल

22 Oct, 2020 08:07 IST|Sakshi
प्रतीकात्मक फोटो

कोरोना वैक्सीन के ट्रायल में शामिल एक वॉलंटियर की मौत

वैक्सीन के ट्रायल पर नहीं लगाई जाएगी रोक

लंदन :  एस्ट्रजेनेका और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा विकसित की जा रही कोरोना वैक्सीन के ट्रायल में शामिल एक वॉलंटियर की मौत हो गई है। इस बात की जानकारी ब्राजील हेल्थ अथॉरिटी Anvisa ने बुधवार को दी। यूनिवर्सिटी ने जानकारी दी है कि जिस वॉलंटियर की मौत हुई है वह ब्राजील का ही रहने वाला है।  इस शख्स की उम्र 28 साल है और इसे सभी वैक्सीन नहीं दी गई थी।

ब्राजील की हेल्थ अथॉरिटी ने बुधवार को बताया कि वैक्सीन के ट्रायल में शामिल एक वॉलंटियर की मौत भले ही हुई हो लेकिन उसकी मौत का कारण वैक्सीन नहीं है. ब्राजील ने फैलसा किया है कि इस घटना के बावजूद फिलहाल ट्रायल नहीं रोके जाएंगे।वहीं, ऑक्सफर्ड के वैज्ञानिकों ने कहा है कि वैक्सीन की सुरक्षा को लेकर कोई चिंता की बात नहीं है।

उधर ऑक्सफर्ड के वैज्ञानिकों ने कहा है कि वैक्सीन की सुरक्षा को लेकर कोई चिंता की बात नहीं है। इससे पहले सितंबर में ब्रिटेन में वैक्सीन के ट्रायल के दौरान एक वॉलंटियर को अस्पताल ले जाना पड़ा था। वहीं इस खबर के सामने आते ही  एस्ट्राज़ेनेका शेयर में 1.7% की गिरावट देखी गई। 

संघीय सरकार के पास पहले से ही यूके वैक्सीन खरीदने और रियो डी जेनेरियो में अपने बायोमेडिकल रिसर्च सेंटर FioCruz पर उत्पादन करने की योजना है, जबकि चीन के सिनोवैक से एक प्रतिस्पर्धी टीके का परीक्षण साओ पाउलो राज्य के शोधकर्ता ब्यूटैनन इंस्टीट्यूट द्वारा किया जा रहा है।

कोरोना मरीजों की मौत के मामले में ब्राजील, अमेरिका के बाद दूसरा सबसे प्रभावित देश है। कोरोना संक्रमितों की संख्या के मामलों में भी ब्राजील दुनिया का तीसरा सबसे ज्यादा संक्रमित देश है। इस मामले में अमेरिका और भारत क्रमश: पहले दूसरे स्थान पर है।

दुनियाभर में कोरोना वायरस की वैक्सीन और दवा तैयार करने के लिए तेजी से काम चल रहा है। कई एक्सपर्ट ने उम्मीद जताई है कि अगले ढाई महीने के भीतर वैक्सीन तैयार हो सकती है। लेकिन इसी दौरान कोरोना की वैक्सीन और दवा को लेकर सेफ्टी के सवाल भी उठ रहे हैं। सुरक्षा कारणों से ही 24 घंटे के भीतर एक वैक्सीन और एक एंटीबॉडी ड्रग के ट्रायल को रोकना पड़ा था।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.