मंगल का राशि परिवर्तन : इन राशियों को होगा लाभ, ये 4 राशि के जातक रहें सावधान

23 Feb, 2021 07:22 IST|मीता
मंगल का राशि परिवर्तन

मंगल ग्रह ने किया राशि परिवर्तन

मंगल के राशि परिवर्तन का 12 राशियों पर असर

इन राशियों को रहना होगा सावधान 

ज्योतिष (Jyotish) में ग्रहों का बड़ा महत्व होता है और जब भी कोई ग्रह एक राशि से दूसरी राशि में जाता है तो इसे बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। वहीं मंगल ग्रह (Mars) को तो ग्रहों का सेनापति माना जाता है तो उनका राशि परिवर्तन तो कई तरह के फेरबदल भी कर सकता है।  मंगल मेष और वृश्चिक राशि के स्वामी माने जाते हैं। मकर राशि में मंगल उच्च के हो जाते हैं वहीं कर्क में मंगल को नीच का माना जाता है। सूर्य, चंद्रमा और बृहस्पति से इनकी मित्रता है। बुध से मंगल की नहीं बनती है जबकि शुक्र और शनि से इनके सम संबंध हैं। 

 22 फरवरी सोमवार को मंगल ग्रह ने प्रात: 5 बजकर 02 मिनट पर राशि परिवर्तन किया है। मंगल स्वयं की राशि मेष से वृषभ राशि में आ जाएंगे जहां पर 14 अप्रैल 2021 तक विराजमान रहेंगे।

क्रूर ग्रह है मंगल 

ज्योतिष शास्त्र में मंगल ग्रह को एक क्रूर ग्रह माना गया है। मंगल साहस, युद्ध, क्रोध और ऊर्जा आदि का कारक माना गया है। ये एक शक्तिशाली ग्रह है इसलिए इसका शुभ और अशुभ होना व्यक्ति के जीवन में बहुत ही महत्वपूर्ण माना गया है। ज्योतिष शास्त्र में मंगल ग्रह से मांगलिक दोष का निर्माण होता है। इस दोष को एक अशुभ योग के तौर पर देखा जाता है। यह दोष वैवाहिक संबंधी कार्यों के लिए बाधक माना गया है।

बन रहा है अंगारक योग

यहां हमें पहले यह जानना चाहिए कि अंगारक योग का निर्माण तब होता है जब राहु और मंगल ग्रह एक साथ आ जाते हैं। आज से यही स्थिति बनने जा रही है। इस योग को अच्छा नहीं माना गया है। वृषभ राशि में इस योग के निर्माण से देश दुनिया पर भी इसका प्रभाव पड़ेगा। ज्योतिष शास्त्र में अंगारक योग को लड़ाई झगड़े, विवाद, आक्रामक, हिंसक स्थितियों का कारक माना गया है।

इन राशियों के लोग रहें सावधान

मंगल के राशि परिवर्तन और राहु के साथ बनने वाले अंगारक योग के दौरान मेष, वृषभ, वृश्चिक राशि के साथ साथ मकर राशि के जातकों को भी विशेष ध्यान देने की जरूरत है। इस दौरान क्रोध पर काबू रखें। विवाद की स्थिति से दूर रहने की कोशिश करें।

12 राशियों पर मंगल के इस राशि परिवर्तन का कुछ ऐसा होगा असर ....


मेष- आपकी राशि से धन भाव में गोचर कर रहे मंगल पारिवारिक कलह एवं मानसिक अशांति तो बढ़ा सकते हैं किंतु आपका आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। कार्य-व्यापार में भी उन्नति होगी। पड़ोसियों से रिश्ते बिगड़ने न दें। विद्यार्थियों एवं प्रतियोगिता में बैठने वाले छात्रों के लिए भी गोचर शुभ रहेगा। जमीन-जायदाद से जुड़े मामलों का निपटारा होगा।गुस्से पर काबू रखें। 

वृषभ -इस राशि में गोचर कर रहे मंगल कार्य व्यापार की दृष्टि से काफी उतार-चढ़ाव का सामना करवाएंगे। स्वास्थ्य और अपने मान-सम्मान तथा सामाजिक प्रतिष्ठा के प्रति हर पल चैतन्य रहना होगा। अधिकारियों से मनमुटाव बढ़ने ना दें। मेहनती रहेंगे किंतु क्रोध भी अधिक करेंगे इसलिए संयम की परम आवश्यकता है। झगड़े विवाद से दूर रहें तथा कोर्ट कचहरी के मामले भी बाहर ही सुलझाएं। विवाहित जातक पार्टनर के साथ अच्छा समय बिताएंगे। सपनों को पूरा करने के लिए आप हर संभव कोशिश करेंगे। 

मिथुन - मिथुन राशि से व्यय भाव में गोचर कर रहे मंगल काफी भागदौड़ और कष्ट कर यात्राओं का सामना करवाएंगे। मित्रों अथवा संबंधियों से भी अप्रिय समाचार प्राप्ति के योग बनेंगे। अधिक खर्च के परिणामस्वरूप आर्थिक तंगी से बचें। इस अवधि के मध्य किसी को भी अधिक धन उधार के रूप में न दें। हर कार्य तथा निर्णय बहुत सावधानीपूर्वक करने की आवश्यकता है। एक साथ आप कई काम करने में सक्षम होंगे, लेकिन हर काम में सफलता हासिल नहीं कर सकेंगे। 

कर्क -आपकी राशि से लाभ भाव में गोचर कर रहे योगकारक मंगल आपकी सफलता में आने वाली सभी बाधाओं का शमन करेंगे। आप कठिन परिस्थितियों पर भी आसानी से विजय प्राप्त कर लेंगे। मान-सम्मान की वृद्धि होगी। सामाजिक पद-प्रतिष्ठा बढ़ेगी। परिवार के वरिष्ठ सदस्यों तथा बड़े भाइयों से मतभेद बढ़ने न दें। विद्यार्थियों एवं प्रतियोगिता में बैठने वाले छात्रों के लिए भी अवसर अधिक अनुकूल है। इस दौरान आपको कई चुनौतियों का भी सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान आप भावुक भी होंगे। 

सिंह - इस राशि के जातकों के लिए कर्मभाव में गोचर कर रहे मंगल व्यापारी वर्ग के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। किसी भी तरह का नया कार्य आरंभ करना हो, जमीन जायदाद से जुड़े मामलों का भी निपटारा करना हो तो अवसर अनुकूल रहेगा। नौकरीपेशा वालों के लिए स्थान परिवर्तन नौकरी में पदोन्नति तथा नए अनुबंध की प्राप्ति के भी योग बनेंगे। शत्रु परास्त होंगे, कोर्ट कचहरी के मामलों में भी निर्णय आपके पक्ष में आने के संकेत हैं। यात्रा का योग बन सकता है।

कन्या -आपकी राशि से भाग्य भाव में गोचर कर रहे मंगल कई तरह के उतार-चढ़ाव का सामना करवाएंगे। विद्यार्थियों के लिए शिक्षा-प्रतियोगिता की दृष्टि से तो इनका प्रभाव सकारात्मक रहेगा किंतु कहीं न कहीं कार्य बाधा भी उत्पन्न कर सकते हैं। धर्म एवं अध्यात्म के प्रति रुचि बढ़ेगी। विदेशी कंपनियों में नौकरी अथवा नागरिकता के लिए किया गया प्रयास सफल रहेगा। सेहत को लेकर चिंता रह सकती है। 

तुला -तुला राशि से अष्टम भाव में गोचर कर रहे मंगल का प्रभाव काफी उतार-चढ़ाव ला सकता है क्योंकि तुला राशि के लिए ये मारक बन जाते हैं। आपके पूर्व के जन्मों के किए गए फल भी मंगल के गोचर वाले प्रभाव में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। स्वास्थ्य के प्रति चिंतनशील रहें। यात्रा सावधानीपूर्वक करें और झगड़े विवाद से दूर ही रहें। कोर्ट कचहरी के मामले भी बाहर ही सुलझायें। प्रतियोगिता में बैठने वाले छात्रों को अपनी तैयारी के प्रति बहुत ध्यान देना होगा। आपके खर्च बढ़ने की संभावना है। अपने स्वभाव से लोगों का दिल जीतेंगे। 

वृश्चिक- इस राशि से सप्तम भाव में गोचर कर रहे मंगल दांपत्य जीवन में भी कुछ कड़वाहट ला सकते हैं। ससुराल पक्ष से रिश्ते बिगड़ने न दें। शादी विवाह से संबंधित वार्ता में भी थोड़ा विलंब हो सकता है। व्यापारी वर्ग के लिए समय अपेक्षाकृत बेहतर रहेगा। साझा व्यापार करने से बचें। इस अवधि के मध्य किसी को भी अधिक धन उधार के रूप में न दें, अन्यथा हानि की संभावना अधिक रहेगी।

धनु - आपकी राशि से छठे भाव में गोचर कर रहे मंगल आपके सभी अरिष्टों तथा शत्रुओं का शमन करेंगे। जमीन जायदाद से जुड़े मामलों का निपटारा होगा। कोर्ट-कचहरी के मामलों में भी निर्णय आपके पक्ष में आने के संकेत हैं। शीर्ष अधिकारियों से संबंध मजबूत होंगे। जो लोग आपको नीचा दिखाने की कोशिश में लगे थे वही मदद करने के लिए आगे आएंगे। इस अवधि में चुनाव से संबंधित कोई निर्णय लेना चाह रहे हों तो सफलता की संभावना सर्वाधिक रहेगी। इस दौरान आप गुस्से पर काबू रखें। कार्यक्षेत्र में सफलता हासिल हो सकती है।

मकर- मकर राशि से पंचम भाव में गोचर कर रहे मंगल विद्यार्थियों एवं प्रतियोगिता में बैठने वाले छात्रों के लिए कई तरह की सफलता के अवसर लाएंगे इसलिए अपनी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में आलस्य न करें। प्रेम संबंधी मामलों में उदासीनता रहेगी। नव-दंपति के लिए संतान प्राप्ति एवं प्रादुर्भाव के भी योग बन रहे हैं। व्यापारियों के लिए समय और अनुकूल रहेगा कोई भी नया कार्य-व्यापार आरंभ करना चाह रहे हों तो सफलता की संभावना सर्वाधिक रहेगी। आर्थिक स्थिति मजबूत होगी।

कुंभ- इस राशि से चतुर्थ भाव में गोचर कर रहे मंगल पारिवारिक कलह एवं मानसिक अशांति का सामना करवाएंगे। मित्रों तथा संबंधियों से भी अप्रिय समाचार प्राप्ति के योग बन रहे हैं। जमीन-जायदाद से जुड़े मामले उलझ सकते हैं इसीलिए अपनी जिद्द एवं आवेश को नियंत्रित रखते हुए कार्य करेंगे तो पूर्ण सफल रहेंगे। वाहन क्रय का योग। कार्यक्षेत्र में भी षड्यंत्र का शिकार होने से बचें। यात्रा सावधानी पूर्वक करें और सामान चोरी होने से बचाएं। वाद-विवाद से बचें।

इसे भी पढ़ें: 

आज बुध के मार्गी होने से इन राशियों का शुभ समय हुआ शुरू, इस राशि के लोगों को रहना होगा सावधान

मीन - इस राशि से पराक्रम भाव में गोचर कर रहे मंगल आपके लिए किसी वरदान से कम नहीं है। अपने अदम्य साहस एवं पराक्रम के बल पर कठिन परिस्थितियों पर भी आसानी से विजय प्राप्त कर लेंगे। सावधान रहें, आपके पास उधार मांगने वालों की संख्या बढ़ सकती है। लेन-देन के मामलों में भी अति सतर्क रहें अन्यथा आर्थिक हानि से बच नहीं सकते। धर्म एवं आध्यात्म के प्रति रुचि बढ़ेगी। विदेशी नागरिकता के लिए किया गया प्रयास सफल रहेगा। गुस्से पर काबू रखें।
 

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.