स्मृति ईरानी का TRS पर हमला, बोलीं- KCR सरकार को नहीं है लोगों की परवाह

25 Nov, 2020 14:21 IST|संजय कुमार बिरादर
मीडिया से बात करती हुईं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी

राजनीतिक फायदे के लिए वोट का अधिकार

तेलंगाना के लिए आवंटित प्रोजेक्ट्स

चार्जशीट के बावजूद चुप हैं केसीआर

हैदराबाद : केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (GHMC) चुनाव में टीआरएस (TRS) और एआईएमआईएम( AIMIM) के बीच अंदरूनी चुनावी सांठगांठ होने का आरोप लगाते हुए कहा कि भ्रष्टाचार और अवसरवाद के चुनाव गठबंधन के कारण हैदराबाद का विकास नहीं हो पाया और हाल में आई बाढ़ इस बात का ताजा नमूना है।

उन्होंने कहा कि तेलंगाना के लिए अनेक लोगों ने कुर्बानी दी है, लेकिन सरकार ने पीड़ित परिवारों के लिए कुछ नहीं किया है।  केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हाल में हैदराबाद में आई बाढ़ में 80 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है, लेकिन राज्य सरकार ने इस बाबत केंद्र को फाइनल मैमोरेंडम तक नहीं भेजी है। उन्होंने कहा कि दुब्बाका उपचुनाव से ये बात स्पष्ट हो चुकी है कि सत्तारूढ़ पार्टी को जनता का समर्थन प्राप्त नहीं है। स्मृति ईरानी ने कहा कि भाजपा का एक मात्र नारा सबका साथ और सबका विकास रहा है।

राजनीतिक फायदे के लिए वोट का अधिकार

केंद्रीय मंत्री ने राज्य सरकार से पूछा कि आखिर घुसपैठियों व रोहिंग्याओं को हैदराबाद में वोट का अधिकार कैसे और किसने दिया है। सिर्फ और सिर्फ राजनीतिक फायदे के लिए रोहिंग्याओं को वोट का अधिकार दिया गया है। उन्होंने राज्य सरकार से तुरंत इस मामले की जांच करने की मांग की।  उन्होंने कहा कि घुसपैठियों के मामले में भाजपा ने एक निर्णय लिया है और उसका मानना है कि देश की संपदा का लुत्फ केवल देश के लोग ही उठाने चाहिए।

तेलंगाना के लिए आवंटित प्रोजेक्ट्स

तेलंगाना में एमआईएम और टीआरएस पर सत्ता का दुरुपयोग करने का आरोप लगाते हुए उन्होंने लोगों से पारदर्शी शासन के लिए जीएचएमसी चुनाव में भाजपा को वोट देने की अपील की।  केंद्र सरकार ने तेलंगाना को 920 करोड़ के प्रोजेक्ट्स आवंटित किए हैं। यही नहीं, टेक्निकल और टेक्स्टाइल्स के लिए केंद्र ने 1,000 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं। उन्होंने कहा कि चिल्ड्रन वैक्सीनेशन और रोजगार का फायदा लोगों तक पहुंचने से रोका जा रहा है। उन्होंने ग्रेटर हैदराबाद में हुए 75 हजार अवैध निर्माण पर भी सवाल उठाया।

इसे भी पढ़ें : 

ओवैसी का भाजपा का चैलेंज, हैदराबाद में बिना पाकिस्तान और आतंकी बोले जीतकर दिखाओ चुनाव

GHMC चुनाव ने लौटाई होटलों व रेस्टोरेंट्स में रौनक, खुश हुए कारोबारी

चार्जशीट के बावजूद चुप हैं केसीआर

उन्होंने कहा कि तेलंगाना में पारिवारिक शासन पर भाजपा के चार्जशीट जारी करने के बाद भी मुख्यमंत्री की तरफ से कोई प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि एमआईएम नेताओं के खिलाफ आरोप लगने पर बावजूद टीआरएस सरकार उनकी जांच का आदेश नहीं दे रही है।  उन्होंने कहा कि दशकों से पुराने हैदराबाद का विकास नहीं हुआ है, क्योंकि सरकारी योजनाओं का लाभ पुराने शहर के लोगों तक पहुंच नहीं पाता है। उन्होंने कहा कि  केवल लोगों को गुमराह करने के लिए जीएचएमसी चुनाव में दोनों पार्टियां अलग-अलग लड़ने और एक-दूसरे के खिलाफ बयानबाजी कर रही हैं।
 

Related Tweets
Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.