GHMC चुनाव ने लौटाई होटलों व रेस्टोरेंटों में रौनक, खुश हुए कारोबारी

25 Nov, 2020 11:11 IST|संजय कुमार बिरादर
कॉंसेप्ट इमेज

ग्रेटर हैदराबाद चुनाव प्रचार के लिए पड़ोसी जिलों के नेता पहुंचे

नगर में सभी होटलों व रेस्टोरेंट्स में बढ़े ग्राहक

सीटिंग कैपासिटी 75 फीसदी तक बढ़ी, बल्क फूड ऑर्डर्स में भी इजाफा

हैदराबाद : ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (GHMC) की बदौलत कोरोना वायरस की वजह से पिछले छह महीनों से बंद और खाली पड़े रेस्टोरेंट और होटल में रौनक लौटने लगी है। GHMC चुनाव के मद्देनजर राज्य के कोने-कोने से मुख्य पार्टियों के नेता व कार्यकर्ताओं के हैदराबाद में आकर डेरा डालने  से यहां के होटलों में चहल-पहल बढ़ गई है।

ई-कॉमर्स कंपनियों की मानें तो नगर में 80 फीसदी से अधिक होटल खुल चुके हैं और भोजन के लिए होटल पहुंच रहे ग्राहक 75 फीसदी तक पहुंच गए हैं। दूसरी तरफ, कार्यकर्ताओं के लिए पार्टियों के बल्क ऑर्डर्स की संख्या बढ़ी है वहीं होम डिलीवरी की संख्या में इजाफा भी  हुआ है। 

होटल मालिकों को भारी नुकसान

राज्य में लॉकडाउन के समय में होटल और रेस्टोरेंट्स को भारी नुकसान पहुंचा था। बंद करने जैसी स्थिति के कारण किराया और कर्मचारियों को वेतन तक देने में असमर्थ मालिकों को भारी नुकसान हुआ था। केंद्र सरकार ने जून के दूसरे सप्ताह में होटल और रेस्टोरेंट्स खोलने की अनुमति दी।

सोशल डिस्टेंसिंग और कोविड गाइडलाइंस का पालन करते हुए रेस्टोरेंट्स में बदलाव करने के बावजूद कोरोना मामलों के चलते ग्राहक बड़ी संख्या में रेस्टोरेंट्स की तरफ नहीं गए। इसके अलावा ज्यादातर रेस्टोरेंट्स में एक्सपर्ट रसोइये अपने-अपने पैतृक गांव चले गए थे। ऐसे में उन्हें वापस बुलाना रेस्टोरेंट मालिकों के लिए मुश्किल हुआ था। कुछ रेस्टोरेंट्स के मुनाफे की परवाह नहीं करने के बावजूद ग्राहकों के नहीं आने और किराया नहीं चुका पाने के करण उन्हें बंद करना पड़ा।

हाल में हुए एक सर्वे का खुलासा
अब ग्रेटर हैदराबाद में कोरोना मामलों के घटने से होटलों व रेस्टोरेंट्स में पहुंचने वाले ग्राहकों की संख्या लगातार बढ़ रही है। अगस्त तक 79 फीसदी रेस्टोरेंट्स बंद रहे। बाद में 21 फीसदी रेस्टोरेंट खुले, लेकिन सभी ने होम डिलीवरी को प्राथमिकता दी।  अक्टूबर और नवंबर में स्थिति बेहतर हुई। बंद पड़े 52 फीसदी रेस्टोरेंट्स  फिर से खुल गए। अब ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम के चुनाव आने से खुले होटलों में ग्राहक बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं।

बिरयानी के ऑर्डर बढ़े 

नगर के 150 डिवीजनों में चुनाव प्रचार के लिए हैदराबाद के पड़ोसी जिलों से सभी मुख्य पार्टियों के नेता व कार्यकर्ता पिछले कुछ दिनों से हैदराबाद में डेरा डाले हुए हैं। अलग-अलग पार्टियों के करीब 5 हजार छोटे-मोटे नेता हैदराबाद के होटलों में रुके हुए हैं और पार्टियां इनसबको डिवीजन वार होटलों में रहने की सुविधा मुहैया करावा रही हैं। गच्चीबावली स्थित एक होटल के मालिक ने बताया कि ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव की वजह से ग्राहकों की संख्या बढ़ी है और सीटिंग कैपासिटी 50 से बढ़कर 75 हो गई है। कुक्कटपल्ली के एक और रेस्टोरेंट मालिक ने बताया कि पिछले एक सप्ताह से हर दिन दो से तीन बल्क ऑर्डर मिल रहे हैं।

इसे भी पढ़ें : 

GHMC Elections 2020: काम और वायदों से ज्यादा भाग्य पर भरोसा कर रहे उम्मीदवार, ज्योतिषियों और मंदिरों के लगा रहे चक्कर

परोसे जा रहे सभी वेराइटी के डिश 

अगस्त और सितंबर के महीने में कई वेराइटी की डिश मैनू घटाकर केवल डिमांड वाले डिश ही ग्राहकों के लिए परोसे गए और अब डिमांड बढ़ने से सभी वेराइटी के डिश सर्व किए जा रहे हैं। जोमैटो ने अपने एक सर्वे में कहा है कि पिछले 15 दिनों से हैदराबाद में होम डिलीवरी में काफी इजाफा हुआ है। होम डिलीवरी ब्यॉज का कहना है कि  खास तौर पर चिकेन और मटन बिरयानी के ऑर्डर बढ़े हैं और एक ही ऑर्डर पर अधिक लोगों के लिए मील्स ऑर्डर करने वालों की संख्या भी बढ़ी है।

Related Tweets
Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.