कभी सुशांत ने कहा था, मुझे कभी सुसाइड का ख्याल आया तो 15 मिनट में मैं उसे बदल दूंगा

31 Jul, 2020 21:33 IST|Sakshi
सुशांत सिंह राजपूत और अंकिता लोखंडे

अंकिता लोखंडे ने बताया सुशांत के साथ कैसा था उनका रिश्ता

सुशांत डिप्रेशन में नहीं था, जो फैलाया जा रहा है वो सब झूठ

रिया के ख‍िलाफ FIR होने के बाद लिखा- सच जीतता है

नई दिल्ली : मुझे कभी सुसाइड का ख्याल आया तो 15 मिनट में मैं उसे बदल दूंगा... ऐसी सोच रखने वाले सुशांत सिंह राजपूत ने आखिर आत्महत्या क्यों की, यह वाकई सोचने वाली बात है और जांच का विषय भी है। सुशांत की एक्स गर्लफ्रेंड अंकिता ने लंबे समय बाद चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि जब उन्हें सुशांत के सुसाइड करने की खबर मिली तो वह बिल्कुल डर गई थीं। उनके लिए यह बात बहुत डराने वाली थी कि जिन्हें वो इतने करीब से जानती थीं, वो इंसान अब इस दुनिया में नहीं रहा।

बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड मामले में लगातार नए ट्विस्ट आते जा रहे हैं। जब से परिवार ने सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती के खिलाफ शिकायत दर्ज की है, यह मामला एक अलग मोड़ ले चुका है। सुशांत की बहन ने भी रिया पर गंभीर आरोप लगाए हैं, हालांकि रिया का कहना है कि ये सब झूठ है। आइए, जानते हैं सुशांत मामले में अब तक हुए बड़े अपडेट्स।

अंकिता लोखंडे ने बताया सुशांत के साथ कैसा था उनका रिश्ता

अंकिता ने बताया- सुशांत हमेशा हंसता रहता था। बड़ी से बड़ी चीजों का सामना किया है उसने। जब वह पहले कभी डिप्रेशन में नहीं आया तो इतने बड़े मुकाम पर पहुंचकर क्यों डिप्रेशन में आता! मैं नहीं मानती कि वो डिप्रेशन में था। यह बहुत बड़ी बात है। अंकिता ने आगे बताया- बहुत पुरानी बात है। किसी ने सुसाइड किया था। हम लोग बात कर रहे थे कि कोई कैसे अपनी जान ले सकता है। तब सुशांत ने मुझे कहा था कि अंकिता मुझे कभी सुसाइड का ख्याल आया तो मैं 15 मिनट में उसे बदल दुंगा। मैं सुसाइड करने वाले को रोकूंगा। अंकिता मैं सब ठीक करूंगा। मैं ऐसे ही नहीं जाऊंगा।

सुशांत डिप्रेशन में नहीं था, जो फैलाया जा रहा है वो सब झूठ

सुशांत के डिप्रेशन पर अंकिता ने कहा- 'मैं सुशांत को पिछले कई सालों से बहुत अच्छे से जानती हूं। मैं जानती हूं कि वो ऐसा नहीं कर सकता है। जब वो मेरे साथ था, मैंने उसे हमेशा दूसरे लोगों को चियर करते देखा है। मैं इस बात को नहीं मानती। पिछले 4 साल से मैं उसके साथ नहीं थी, लेकिन मैंने उसे 7 साल देखा है। वो अपने सपनों, डांस, टैलेंट, एक्टिंग हर चीज को लेकर उत्साही था। वो ऐसा नहीं कर सकता।'

रिया के ख‍िलाफ FIR होने के बाद लिखा- सच जीतता है

रिया पर केस फाइल होने के बाद सुशांत की एक्स गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे का एक ट्वीट सामने आया था, जिसमें लिखा था, सच जीतता है। अब अंकिता ने बताया है कि उन्होंने यह ट्वीट क्यों किया था। अंकिता ने कहा- मैंने लिखा था कि सच्चाई जीतती है क्योंकि हम सब सच जानना चाहते हैं। मेरा उस पोस्ट से यही मतलब था। सुशांत की फैमिली, फैंस और मैं, यह सच जानना चाहते हैं कि सुशांत के साथ क्या हुआ था। मैं सुशांत की फैमिली के लिए स्टैंड लेना चाहती हूं। मैं उनपर यकीन करती हूं। उनके पास सबूत होगा, तभी उन्होंने इतना बड़ा इल्जाम लगाया है। मैं उन्हें करीब से जानती हूं। मैंने अपनी जिंदगी के 7 साल सुशांत और उसकी फैमिली के साथ शेयर किए हैं। मैं उसकी बहनों को जानती हूं। इस वक्त उसका परिवार काफी तनाव से गुजर रहा है। हालांकि मैं रिया और सुशांत के रिलेशन पर कमेंट नहीं कर सकती क्योंकि तब मैं वहां थी ही नहीं। मैं उनकी दोस्त भी नहीं थी।

सुशांत की जांच पर बोलीं अंकिता, मुझे महाराष्ट्र पुलिस पर पूरा भरोसा

जहां तक मैं महाराष्ट्र पुलिस को जानती हूं तो मैं इस सब में पहली बार आई हूं कि किसी ने मुझसे कुछ पूछा है। मैं महाराष्ट्र में सुरक्षित महसूस करती हूं और मुझे महाराष्ट्र पुलिस पर भरोसा है लेकिन जहां तक इतने बड़े लोग अगर कुछ बोल रहे हैं तो ये उनका भरोसा है। उन्हें कुछ लग रहा है तभी वो ये चीजें बोल रहे हैं।

सुशांत के करीबी दोस्त सिद्धार्थ पिठानी का खुलासा

सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त और क्रिएटिव कंटेंट मैनेजर सिद्धार्थ पिठानी ने बताया कि वे पिछले एक साल से सुशांत को जानते थे। दोनों की मुलाकात कॉमन दोस्तों के जरिए हुई थी। बाद में सुशांत के लिए सिद्धार्थ काम भी करने लगे। सिद्धार्थ के मुताबिक, वो सुशांत के पर्सनल मामलों से दूर रहते थे और उनसे इस बारे में कोई बात भी नहीं करते थे। उन्हें रिया चक्रवर्ती के बारे में कुछ भी मालूम नहीं था।

आखिरी समय में घर में थे सिद्धार्थ पिठानी

सिद्धार्थ पिठानी, सुशांत के वही दोस्त हैं, जो आखिरी समय में उनके घर में रह रहे थे। सिद्धार्थ ने आगे बताया कि वे कोरोना के समय में सुशांत के साथ रह रहे थे। अंतिम बार उनकी मुलाकात सुशांत सिंह राजपूत से 13 जून रात 1 बजे हुई थी। सुशांत अपनी पूर्व मैनेजर दिशा के सुसाइड को लेकर परेशान थे क्योंकि उनका नाम इस मामले में दिशा संग जोड़ा जा रहा था और उन पर ब्लाइंड आइटम लिखे जा रहे थे। सिद्धार्थ के मुताबिक, सुशांत के परिवार ने उनसे 15 करोड़ रुपये के बारे में पूछा, जिसके बारे में उन्हें नहीं पता इसलिए उन्होंने परिवार को जानकारी देने से मना कर दिया। उन्होंने IO को ई-मेल के जरिए इस बारे में बताया है। सुशांत के परिवार के दो लोगों ने उनसे कांटेक्ट किया था। फिलहाल सिद्धार्थ बिहार पुलिस के  जवाब का इंतजार कर रहे हैं। वह भी सुशांत को न्याय दिलाना चाहते हैं। बता दें कि सिद्धार्थ पिठानी ही सुशांत के वह दोस्त हैं, जिनके बारे में रिया चक्रवर्ती का कहना है कि सुशांत का परिवार उन पर झूठा बयान देने का दबाव डाल रहा है।

बिहार सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में डाली अर्जी

सूत्रों के मुताबिक, बिहार सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में कैविएट के साथ एक अर्जी भी दाखिल कर ली है, जिसमें बिहार सरकार ने कहा कि बिहार पुलिस द्वारा मामले की जांच को जारी रहने दिया जाए। बिहार सरकार ने रिया की उस मांग का विरोध किया है जिसमें रिया ने कहा है कि जब तक उसकी याचिका सुप्रीम कोर्ट में लंबित रहती है तब तक बिहार पुलिस को आगे की जांच से रोका जाए।

आज सुप्रीम कोर्ट में तुरंत सुनवाई की मांग कर सकते हैं रिया के वकील

एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती के वकील आज सुप्रीम कोर्ट में तत्काल सुनवाई की मांग कर सकते हैं। इस दलील में निकाली गई गलतियां कल शाम ही ठीक कर ली गई हैं। वकील आज सुप्रीम कोर्ट से तुरंत दलील को सुनने के लिए कह सकते हैं।

बीजेपी नेता ने की सीबीआई जांच की मांग

बीजेपी के एमपी सुशील कुमार सिंह ने महाराष्ट्र सीएम उद्धव ठाकरे को पत्र लिखा है। उन्होंने इसके जरिए सुशांत सिंह राजपूत मामले की सीबीआई जांच की मांग की है।

मौत से दो हफ्ते पहले ट्रेनर से हुई थी सुशांत की बातचीत

सुशांत सिंह राजपूत के ट्रेनर समी ने बताया है कि उनकी बातचीत सुशांत से 1 जून को हुई थी। उस समय समी की मां का देहांत (29 मई) हो गया था और सुशांत ने शोक व्यक्त करने के लिए उन्हें कॉल किया था। ये सुशांत की मौत से दो हफ्ते पहले की बात है। समी ने आगे बताया कि वो सुशांत को ताज लैंड्स एंड में ट्रेन करते थे। उन्होंने कभी भी रिया चक्रवर्ती को ट्रेन नहीं किया। समी के मुताबिक जब उनकी बात सुशांत सिंह राजपूत से आखिरी बार हुई थी, तब उन्हें कुछ भी अटपटा नहीं लगा था। सुशांत ने ऐसा कुछ नहीं कहा जिससे समी परेशान होते या उन्हें लगता कि सुशांत मुश्किल में हैं।

कंगना बोलीं- पैसों पर ध्यान दे रहा परिवार, नेपोटिज्म का क्या?

सुशांत मामले में रिया चक्रवर्ती पर फोकस आने के बाद नेपोटिज्म से सबका ध्यान हट गया है। ऐसे में एक्ट्रेस कंगना रनौत ने ट्विटर पर अपने विचार रखे हैं। उन्होंने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत जैसे लेजेंड को एक मासूम मजनू के रूप में ना देखा जाए। उनके किए हुए पोस्ट, जिनमें वो लोगों से अपनी फिल्मों को देखने के लिए आग्रह कर रहे थे और नेपोटिज्म के लिए उनकी शिकायतों से ध्यान ना हटाया जाए। उन्होंने ट्वीट कर कहा- दुर्भाग्य से सुशांत का परिवार पैसों की बात पर ध्यान दे रहा है और उनके इंटरव्यू और पोस्ट्स को भूल गया है, जिसमें उन्होंने नेपोटिज्म और खुद को परेशान करने वालों के बारे में बताया था।

सीबीआई जांच के लिए एक और याचिका

सुशांत सिंह राजपूत की मौत की सीबीआई जांच की मांग पर एक और याचिका डाली गई है। इस बार गौरव पाठक ने पटना हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस को ये याचिका भेजी है। इससे पहले सामाजिक कार्यकर्ता और मानसिक स्वास्थ्य के लिए कार्यरत एनजीओ की संचालक कंचन राय ने अपने वकील सार्थक नायक के जरिए मुंबई हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस को सीबीआई जांच की मांग करते हुए याचिका भेजी थी।

सुशांत के रिश्तेदारों पर रिया चक्रवर्ती का आरोप

रिया चक्रवर्ती ने सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिका में आरोप लगाया कि बिहार पुलिस में एफआईआर दर्ज करने और जांच को प्रभावित करने के पीछे सुशांत सिंह राजपूत के रिश्तेदार एडीजी हरियाणा पुलिस हो सकते हैं। उन्होंने ये भी आरोप लगाया कि सुशांत के दोस्त सिद्धार्थ पिठानी पर उनके खिलाफ बयान दिए जाने का दबाव बनाया जा रहा है। साथ में रिया ने यह भी कहा कि सिद्धार्थ ने इस बारे में मुंबई पुलिस को ईमेल लिखा था।

रिया का वीडियो आया सामने

पूरे दिन ​​बिहार पुलिस से बचने की कोशिश में घर पर ताला लगाकर कहीं छिप चुके रिया चक्रवर्ती और उनके भाई शोविक को लेकर मीडिया में खबरें आती रहीं कि वे गायब हैं। पूरे दिन उन्होंने अपने फोन भी स्विच आफ रखे, लेकिन शुक्रवार शाम रिया चक्रवर्ती ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट करके कहा— सत्यमेव जयते। सुशांत मामले में सत्य की विजय होगी। मुझे ईश्वर पर पूरा भरोसा है।

सिद्धार्थ पिठानी ने ईमेल में क्या लिखा?

सिद्धार्थ पिठानी ने मुंबई पुलिस को ईमेल लिख कहा था कि 22 जुलाई को मेरे पास सुशांत के परिवार से ओपी सिंह और मीतू सिंह का कॉल आया था। उन्होंने मुझसे रिया चक्रवर्ती और सुशांत के साथ रहने के दौरान के रिया के खर्चों के बारे में पूछा। 27 जुलाई को ओपी सिंह का फोन आया और उन्होंने मुझसे रिया चक्रवर्ती के खिलाफ बिहार पुलिस को बयान देने के लिए कहा। उन्होंने ईमेल में यह भी कहा है कि उन पर दबाव डाला जा रहा है।

सुशांत मामले को अब राजनीतिक रंग देने की कोशिश

चूंकि बिहार विधानसभा के चुनाव इसी साल होने वाले हैं और सुशांत मामले में प्रशंसकों की एक लंबी फेहरिस्त न्याय के इंतजार में है। ऐसे में बिहार सरकार को सुशांत का मामला राजनीतिक तौर पर दोबारा से कुर्सी पाने में सहायक महसूस हो रहा है इसलिए वह इस मामले में अब कूद पड़ी है और गंभीरता के साथ इसे उठाए हुए है। साथ ही बिहार पुलिस मामले की जांच में भी पूरी सख्ती के साथ जुटी है। राजनीतिक हलकों में यह सुगबुगाहट तेज हो रही है कि चूंकि महाराष्ट्र में शिवसेना की सरकार है और बीजेपी वहां विपक्ष में बैठी है इसलिए सुशांत के मामले को लेकर बिहार सरकार गंभीरता से लेना चाह रही है। हो सकता है कि इसे राजनीतिक जामा पहनाकर बिहार की मौजूदा सरकार अपनी राजनीतिक रोटियां सेंकने की कोशिश करना चाह रही हो। ऐसी संभावनाएं भी आज बड़े पैमाने पर जताई गई हैं।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.