Genelia Dsouza Birthday : रितेश को क्यों नजरअंदाज करती रहीं जेनेलिया, ऐसी थी इनकी लव स्टोरी

4 Aug, 2020 21:36 IST|अनूप कुमार मिश्रा
रितेश देशमुख के साथ जेनेलिया डिसूजा (फाइल फोटो)

जेनेलिया डिसूजा का जन्म 5 अगस्त 1987 को मुंबई में हुआ

हैदराबाद में पहली बार जेनेलिया ने रितेश देशमुख को देखा था

साल 2003 में जेनेलिया को पहली बार फिल्म में काम करने का मौका मिला

मुंबई : अभिनेत्री जेनेलिया डिसूजा भले ही अब फिल्म इंडस्ट्री में ज्यादा एक्टिव न हों, लेकिन उनकी एक्टिंग आज भी फैंस के जेहन में ताजा है। महानायक अमिताभ बच्चन के साथ एक पेन के ऐड से शुरुवात करने वालीं जेनेलिया ने कुछ ही समय में बॉलीवुड में अपनी एक पहचान बना ली। उन्होंने अभिनेता रितेश देशमुख से शादी की और उसके बाद से ही वह फैमली को समय देने के लिए फिल्मों से दूर हो गईं। जेनेलिया के बर्थडे पर जानते हैं उनकी जिंदगी की कुछ अनसुनी बातें।

जेनेलिया डिसूजा का जन्म 5 अगस्त 1987 को मुंबई में हुआ था। उन्हें एक्टिंग का शौक बचपन से ही थी। स्कूल में पढ़ाई के दौरान भी वह कई कॉम्पिटीशन में भाग लेती रहती थीं। उनकी बॉलीवुड में आने की चाहत साल 2003 में पूरी हुई।

जेनेलिया को मिला पहला मौका

बिग बी के साथ ऐड में नजर आने के बाद जेनेलिया एक पहचाना चेहरा बन गई थीं। साल 2003 में जेनेलिया को पहली बार लोगों ने पर्दे पर देखा था। फिल्म का नाम था 'तुझे मेरी कसम'। इसमें उनके साथ अभिनेता रितेश देशमुख थे। इसके बाद जेनेलिया ने 'जाने तू या जाने ना', 'चांस पे डांस', 'फोर्स' और 'तेरे नाल लव हो गया' सहित कई बॉलीवुड फिल्मों में काम किया है।

कई भाषाओं की फिल्मों में आईं नजर

जेनेलिया ने न सिर्फ हिंदी फिल्मों में बल्कि तमिल, तेलुगू, मलयालम, कन्नड़ और मराठी फिल्में भी एक्टिं की हैं। जेनेलिया को अपना पहला फिल्मफेयर पुरस्कार (तेलगु) 2006 में बनी रोमांटिक फिल्म बोमरिलू के लिए मिला था। साल 2008 में जेनेलिया ने संतोष सुब्रमण्यम जो बोमरिलू की तमिल पुनार्निर्मिति थी और बॉलीवुड फिल्म जाने तू या जाने ना में भूमिका अदा की। अभिनय के साथ ही उन्होंने टेलिविजन शो बिग स्विच की भी मेजबानी की है व साथ ही साथ वे फैंटा, वर्जिन मोबाइल इण्डिया, फास्टट्रैक, एलजी मोबाइल, गार्नियर लाइट, मार्गो व पर्क इण्डिया की ब्रैंड अम्बैसिडर भी है।

जब रितेश को करती रहीं अनदेखा

रितेश देशमुख एक इंटरव्यू के दौरान बताते हैं कि जब हैदराबाद के एयरपोर्ट पर जेनेलिया और उनकी मुलाकात हुई तो वह पहली नजर का अट्रैक्शन था। हालांकि जेनेलिया ने जब रितेश को देखा तो वह उन्हें नजरअंदाज करती रहीं। उस वक्त रितेश के पिता विलासराव देशमुख महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री थे। उनको लगता था कि एक मुख्यमंत्री का बेटा होने के नाते रितेश का व्यवहार दबंग किस्म का होगा। 

ऐसी शुरू हुई दोनों की लव स्टोरी

हैदराबाद में फिल्म की शूटिंग के सिलसिले में दोनों की मुलाकात सेट पर हुई। इसके बाद रितेश को लेकर जेनेलिया के मन में जो कुछ चल रहा था वह सब दूर हो गया। दोनों के बीच एक अच्छी बॉडिंग बन गई। वह अब अच्छे दोस्त हो चुके थे। हैदराबाद में शूटिंग खत्म होने के बाद जब रितेश घर लौट आए तो वो जेनेलिया को मिस करने लगे। यहीं से दोनों के बीच लव स्टोरी की शुरुआत भी हुई। जेनेलिया ने इसके बाद रितेश के साथ फिल्म 'मस्ती' में साथ काम किया। दोनों का रिश्ता तो वैसे पहली फिल्म के वक्त से ही शुरू हो गया था। 

धीरे-धीरे मीडिया में दोनों के अफेयर और फिर शादी की चर्चाएं जोर पकड़ने लगी थी। इसके बाद तीन फरवरी 2012 को वो शादी के बंधन में बंध गए। दोनों के दो बेटे रियान और राहिल हैं। जेनेलिया फिलहाल अपना पूरा टाइम फैमिली को ही दे रही हैं। रितेश और जेनेलिया बॉलीवुड की पार्टीज में साथ में नजर आते रहते हैं।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.