33 साल की उम्र में करोड़ों रुपए के मालिक हैं आदित्य नारायण, कई गर्लफ्रेंड को कर चुके हैं डेट

6 Aug, 2020 01:06 IST|Sakshi
सभी फोटोज सौजन्य सोशल मीडिया।

13 की उम्र में मिली पहली गर्लफ्रेंड

आदित्य के जन्म पर खुश नहीं थे पिता

किसान थे आदित्य के दादा 

एक्टर,सिंगर और म्यूजिशियन आदित्य नारायण आज अपना 33वां जन्मदिन मना रहे हैं। आदित्य बचपन से ही सिंगिंग और एक्टिंग में अपना हुनर दिखा चुके हैं। बता दें कि उन्होंने सिंगिंग और एक्टिंग की शुरूआत 1995 में रंगीला मूवी से की थी।  अपने करियर की शुरूआत कल्याण विर्ज शाह के अंडर में की थी, जो कि आदित्य से उनके चौथे बर्थ-डे पर मिले थे।  उसके बाद 1995 में सुभाष घई ने भी उन्हें एक फंक्शन में देखा था, तभी से उनका फिल्मी करियर शुरू हो गया था।

आदित्य ने मुंबई से पूरी की है पढ़ाई
वे फेमस सिंगर उदित नारायण के बेटे हैं।आदित्य की मां का नाम नीता नारायण है जो कि वेस्ट बंगाल से हैं। नीता कुछ भोजपुरी फिल्में भी बना चुकी है।  वे 15 भाषाओं में गाने गाती हैं।  आदित्य की पढ़ाई उत्पल सांघवी स्कूल मुंबई से हुई है। और उनकी कॉलेजिंग मीठीबाई कॉलेज मुंबई से हुई है।

13 की उम्र में मिली पहली गर्लफ्रेंड
आदित्य ने एक इंटरव्यू में खुलासा किया था कि मेरी पहली गर्लफ्रेंड 13 साल की उम्र में मिल गई थी जो कि मेरी ही बिल्डिंग में रहती थी। इसके एक साल बाद यानी 14 साल की उम्र में वे सीरियस रिलेशनशिप में आए। हमने 2 साल से अधिक समय तक डेटिंग की। ईमानदारी से कहूं तो 22 साल की उम्र तक मेरी कई गर्लफ्रेंड थीं; और फिर मुझे 6 साल बाद इस लड़की से प्यार हो गया; लेकिन दुर्भाग्य से यह भी खत्म हो गया।

करोड़ों रुपए के मालिक हैं आदित्य
रिपोर्ट्स की मानें तो आदित्य नारायण की कुल संपत्ति 7.10 करोड़ रुपए की है। आदित्य ने 8 साल की उम्र में ही यलो कलर की जेन कार खरीद ली थी। उन्होने बताया था कि मैनें उस वक्त यह कार इसलिए खरीद ली थी क्योंकि मुझे  फिल्मों से पैसे मिलने शुरु हो गए थे और उसी दौरान से मैं टैक्स पे करना शुरू करना शुरू कर दिया था। इसके बाद 21 साल की उम्र में उन्होंने अपना घर खरीदा। आदित्य के पास एक हार्ले डेविडसन बाइक भी है जिसे उन्होंने रामलीला फिल्म की रिलीज के बाद खरीदा था और इसके अलावा उनके पास मर्सडीज कार भी है। 

आदित्य के जन्म पर खुश नहीं थे पिता
आदित्य ने एक इंटरव्यू में खुलासा किया कि जब मैं पैदा हुआ था तो उनके पिता खुश नहीं थे, क्योंकि तब वे संघर्ष कर रहे थे और काफी दबाव से गुजर रहे थे। साथ ही उन्होंने यह भी कहा  मैं अपने पिता के रूप में उन्हें पाकर बहुत खुशकिस्मत हूं। मैंने हमेशा सीख ली है। उन्होंने कि मैं बहुत ही सरल और प्यार करने वाले परिवार हूं, जिसने मुझे कभी भी स्टार किड ’जैसा फील नहीं होनें  दिया।  कराया। 

किसान थे आदित्य के दादा
उन्होंने इस इंटरव्यू में इस बात का भी जिक्र किया था कि  ''मैंने अपने पिता के पूरे करियर ग्राफ को देखा है। हम बिहार के एक गाँव के हैं, जहां अभी भी बिजली नहीं है। मेरे दादाजी एक किसान थे। माँ, डैड और 1 कमरे में मेरी माँ के घर कलिना में रहते थे। यह उनका संघर्ष था जिसे मैंने देखा और अनुभव किया है। मैंने उनके संघर्ष और उनकी सफलता दोनों पक्षों को देखा है। मैं 5 पैसे का मूल्य जानता हूं। वही हमें धरातल पर उतारता है। 


शापित फिल्म के बाद महीनों झेलनी पड़ी बेरोजगारी 
दित्य नारायण ने राम गोपाल वर्मा की फिल्म रंगीला से अपने करियर की शुरुआत की। इसके बाद उन्होंने जब प्यार किसी से होता है और परदेस जैसी फ़िल्मों में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट का रोल प्ले किया। इसके बाद उन्होंने विक्रम भट्ट की फिल्म शापित में काम मिला। हालांकि यह यह फिल्म बॉक्स-ऑफिस पर फ्लॉप रही। इस फिल्म के बाद से उन्हें फिल्मों मे काम मिलने बंद हो गए।  यह वो दौर था जब आदित्य को अपने लाइफ में पहली बार असफलता देखनी पड़ी। इस फिल्म के बाद से ही उनके पीछे पीछे चलने वाले लोग अचानक उनसे दूर हो गए और वे कुछ समय के लिए बेरोजगार हो गए। इस दौरान उन्हें काफी तनाव का सामना करना पड़ा, क्योंकि उनके पास ऑफर आने बंद हो चुके थे। यहां तक कि उन्हें टेलीविजन और स्टेज शो भी मिलने बंद हो गए थे। यह कुछ सालों तक चला। हालांकि अचानक उन्हें  एक्स-फैक्टर नाम का एक शो ऑफर किया गया और फिर इसके बाद उन्होंने फिर पीछे मुडकर नहीं देखा। 

साल 2007 से शुरू किया स्टेज शो
दित्य नारायण ने 2007 में सा रे गा मा पा चैलेंज के साथ शुरुआत की थी। तब से वह एक्स-फैक्टर इंडिया, सा रे गा मा पा लील चैंप्स, एंटरटेनमेंट की रात, राइजिंग स्टार 3 जैसे कई हिट शो के होस्ट कर चुके हैं , किचन चैंपियन के अलावा कलर्स टीवी के (फियर फैक्टर) खतरों के खिलाड़ी 9 में रनर अप रहे। 


120 गानें गा चुके हैं आदित्य
आदित्य नारायण भी अपने पिता उदित नारायण के नक्शेकदम पर चलते रहे हैं। उन्होंने कुल 120 गानें गाए हैं। आदित्य अपने माता पिता के ही तरह कई भाषाओं में गाने गा सकते हैं। उनके कुछ हिट गानों  इश्क़िकुन ढिशक्युन, ततड़ ततड़, सुन लो रे बंधु, मुजे माफ़ कर्ण, चुपड़ी चाची, आई लव माई इंडिया, आई लव यू माई डैडी, छोटा बच्चा जानके हमको ना समझाना रे आदि। उन्होंने रंगीला रे और कहिन आग लाग के लिए एआर रहमान के साथ भी काम किया है।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.