क्या सुशांत केस में बिहार पुलिस को मिल गए सबूत, पटना लौटते ही कही ये बात

6 Aug, 2020 15:16 IST|Sakshi
अधिकारियों का कहना है कि काफी सबूत हाथ लगे हैं।

पटना : सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले को लेकर जांच करने गई चार सदस्यीय पटना पुलिस टीम गुरुवार को मुम्बई से पटना लौट आई। यह टीम अपनी रिपोर्ट पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक उपेंद्र शर्मा को सौंपेगी।

केंद्र सरकार द्वारा इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपे जाने की पुष्टि होने के बाद टीम गुरुवार को दोपहर पटना हवाई अड्डे पर पहुंची। यहां पत्रकारों से टीम के सदस्यों ने खुलकर तो बात नहीं की लेकिन इतना जरूर कहा कि प्रतिकूल परिस्थितियों में सुशांत मामले में जो भी साक्ष्य मिला है, वह इकटठा किया गया है।

आईजी से मिलेंगे एसएपी उपेंद्र शर्मा
अब पुलिस अधिकारी एसएसपी उपेंद्र शर्मा और आईजी संजय सिंह से मिलेंगे। वे मुंबई में अब तक की गई जांच की रिपोर्ट देंगे। इसके बाद एसएसपी और आईजी पुलिस मुख्यालय जाकर डीजीपी से मिलेंगे। पटना पुलिस मुंबई में की गई जांच की रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट को सौंपेगी। बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने तीन दिन में बिहार सरकार को रिपोर्ट देने का आदेश दिया था।

मुंबई में छिपकर रह रहे थे पुलिस अधिकारी
पटना के राजीव नगर थाना में सुशांत के पिता केके सिंह ने केस दर्ज कराया था। इसके बाद पटना पुलिस के 4 अधिकारी जांच के लिए मुंबई गए थे। बाद में एसपी विनय तिवारी को भेजा गया। उन्हें बीएमसी ने क्वारैंटाइन किया है। इस घटना के बाद पटना पुलिस की टीम मुंबई में छिपकर 4 दिन से जांच कर रही थी। सुशांत सुसाइड केस की जांच की जिम्मेदारी सीबीआई को दी गई है।

विनय तिवारी को हाउस अरेस्ट कर रखा है: डीजीपी
बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद भी एसपी विनय तिवारी को क्वारैंटाइन से बाहर नहीं कर रही है। उन्हें हाउस अरेस्ट की तरह रखा गया है। हम आज एडवोकेट जनरल से सलाह के बाद तय करेंगे कि इस मामले में क्या कार्रवाई की जाए। इस मामले में हम कोर्ट भी जा सकते हैं।

बिहार के पटना के राजीवनगर थाना में सुशांत के पिता केके सिंह द्वारा 25 जुलाई को मामला दर्ज कराने के बाद पटना पुलिस की चार सदस्यीय टीम 27 जुलाई को मुबई गई थी।
इसके बाद पटना के सिटी एसपी विन तिवारी को भी मुंबई भेजा गया था, जिसे मुंबई पहुंचते क्वारंटीन कर दिया गया था।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.