हैदराबाद में है माता का ऐसा मंदिर जहां विशेष तरीके से जलाते हैं दीप, पूरी होती है मनोकामना

17 Oct, 2020 17:13 IST|मीता
स्कंदगिरी मंदिर

हैदराबाद का स्कंदगिरि मंदिर

यहां विशेष तरीके से जलाते हैं दीप 

नवरात्रि शुरू हो गई है और इन नौ दिनों में भक्तजन माता रानी का अपने घर में आह्वान करते हैं, पूरे नौ दिन उनकी भक्ति भाव से पूजा करते हैं, नौ दिन तक व्रत करते हैं साथ ही माता के प्रसिद्ध मंदिरों में जाकर दर्शन भी करते हैं जिससे कि उनके संकट दूर हो सके और उनकी मनोकामना पूरी हो सके। 

वहीं मंदिरों में भी नवरात्रि पर माता की विशेष पूजा होती है, खास तरह से अलंकार होता है और पूजा के कई खास इंतजाम भी किए जाते हैं जिससे कि भक्तों को कोई परेशानी न हो। 

हैदराबाद का प्रसिद्ध स्कंदगिरि मंदिर 

नवरात्रि में भक्तजन मां दुर्गा के कई चमत्कारी मंदिरों के दर्शन के लिए जाते हैं जिससे कि उनकी पूजा जल्द ही फलित हो और उन्हें मनचाहा वरदान मिले, ऐसा ही एक चमत्कारी मंदिर हैदराबाद में है जिसे स्कंदगिरि मंदिर के नाम से जानते हैं। 

यह मंदिर पद्माराव नगर में है, गांधी अस्पताल के पीछे की कॉलोनी में ये मंदिर स्थित है। यहां जाते ही भक्तों को एक अजीब सी शांति व सुकून का एहसास होता है। 

दर्शन मात्र से भर जाती है भक्तों की झोली 

इस मंदिर की सबसे खास बात तो यही है कि यहां हमेशा भक्तों की भीड़ लगी रहती है और भक्तों का मानना है कि यहां आने वाले हर भक्त की झोली मां भर देती है। दर्शन मात्र से उनके कष्ट दूर हो जाते हैं इसीलिए यहां भक्तों का जमावड़ा लगा रहता है। वहीं नवरात्रि में तो कई विशेष पूजा अर्चना का भी इंतजाम किया जाता है। 

मनोकामना पूर्ति के लिए ऐसे होती है पूजा 

इस मंदिर की सबसे खास बात तो यही है कि यहां मनोकामना पूर्ति के लिए भक्त विशेष तरीके से पूजा करते हैं और दीपक प्रज्वलित करते हैं। जी हां, आपको जानकर हैरानी होगी कि यहां मनोकामना पूर्ति के लिए भक्तजन सोलह सप्ताह के व्रत का संकल्प लेकर उसे पूरा करते हैं साथ ही हर मंगलवार को माता रानी के दरबार में माथा टेकते हैं। 

इसके अलावा मनोकामनापूर्ति के लिए यहां नींबू लेकर उसमें घी या तेल डालकर, बाती लगाकर उसे प्रज्वलित किया जाता है। यही इस मंदिर की सबसे बड़ी विशेषता है। 


छोटी सी पहाड़ी पर स्थित है ये मंदिर 

माता रानी का ये मंदिर छोटी सी पहाड़ी पर स्थित है। इस मंदिर में मां दुर्गा की विशेष पूजा होती है और नवरात्रि में तो कई विशेष कार्यक्रम भी आयोजित किये जाते हैं। वहीं हर मंगलवार, शुक्रवार और रविवार को माता के भक्तों की भीड़ जुटती है और मां की विशेष पूजा का आयोजन भी किया जाता है। 

मंदिर में हनुमानजी व सुब्रह्मण्यम स्वामी भी है

इस मंदिर में मां दुर्गा के अलावा हनुमानजी व सुब्रह्मण्यम स्वामी के दर्शन भी किये जा सकते हैं। प्रति शनिवार को हनुमानजी की विशेष पूजा होती है। इसके बाद हनुमानजी को वड़े से बनी माला चढ़ाई जाती है और फिर शाम में भक्तों को इसे प्रसाद स्वरूप बांट दिया जाता है। 

ये है मंदिर में नवरात्रि के विशेष कार्यक्रम की सूची 

नवरात्रि में 17 से 23 अक्टूबर तक माता का अभिषेक, अलंकार, पुष्पांजलि, श्री दुर्गा यज्ञ, मंगल आरती, दीपाराधना के कार्यक्रम होंगे। 

24 अक्टूबर, शनिवार अष्टमी को माता का अभिषेक, अलंकार, पुष्पांजलि, श्री दुर्गा यज्ञ, मंगल आरती, दीपाराधना। 

25 अक्टूबर, रविवार, नवमी को माता का अभिषेक, अलंकार, पुष्पांजलि, श्री दुर्गा यज्ञ, मंगल आरती, दीपाराधना। 

26 अक्टूबर, सोमवार, विजयदशमी को श्री सुब्रह्मण्यम स्वामी का अभिषेक, पुष्पांजलि, मंगल आरती, शस्त्राभ्यास होगा। 
 

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.