भीड़ ने 3 महिला और 1 पुरुष की जमकर पिटाई, फिर निर्वस्त्र कर गांव में घुमाया

10 Oct, 2020 13:31 IST|Sakshi
कॉन्सेप्ट फोटो

गढ़वा : देश में कड़े कानून होने के बावजूद अपराध थमने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा मामला झारखंड के गढ़वा शहर का है। यहां तीन महिला और एक पुरुष के साथ जमकर मारपीट कर उन्हें निर्वस्त्र गांव में घुमाने का मामला प्रकाश में आया है। पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि झारखंड के गढ़वा जिले के एक गांव में करीब 50 लोगों की भीड़ द्वारा तीन महिलाओं और एक शख्स को कथित तौर पर पकड़ कर उनकी पिटाई की गई।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नारायणपुर गांव में गुरुवार रात हुई इस घटना के सिलसिले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जबकि बाकी लोगों को पकड़ने के लिए तलाशी जारी है। ये शर्मनाक घटना रात 10 बजे के आसपास की है। सूचना मिलने के तुरंत बाद, पुलिस की एक टीम गांव में भेजी गई। पाया गया कि घटनास्थल पर लगभग 50 लोग मौजूद थे। इन चारों की पिटाई करने के बाद इन्हें निर्वस्त्र घुमाया गया।

गढ़वा सदर के सबडिविजनल पुलिस अधिकारी ब्राह्मण टुटी ने बताया कि दो लोग नकाबपोश थे। पुलिस ने पहले महिला और पुरुष को कपड़े मुहैया कराए, जिसके बाद वे दोनों आरोपियों - रवि कुमार और वासुदेव को सदर पुलिस स्टेशन ले आया गया।

पुलिस अधिकारी ने कहा कि इस घटना में शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस ने बताया कि गांव की ही दो लड़कियों के बीमार होने का शक इन पर लगाया जा रहा था। इन पर जादू टोने का आरोप लगाया गया था। जिसके बाद इन महिलाओं और पुरुष को पकड़कर उनकी पिटाई की गई।

पुलिस द्वारा दर्ज मामले के अनुसार, विकास कुमार साव, बबलू राम, राजद पासवान, रवि कुमार राम और राजू राम के साथ राजवार के परिवार के सदस्यों ने तीनों महिलाओं को कथित तौर पर पकड़ा उनकी पिटाई की और फिर पूरे इलाके में बिना कपड़ों के घुमाया।

सदर थाने के प्रभारी निरीक्षक राजीव कुमार ने कहा, "हमें जानकारी है कि घटना में लगभग 50 लोग शामिल थे और उनकी तलाश जारी है। दोषियों को किसी भी परिस्थिति में बख्शा नहीं जाएगा। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

 पुलिस ने कहा कि कुछ ग्रामीणों ने हस्तक्षेप करने और भीड़ को रोकने की कोशिश की लेकिन उनके साथ मौखिक रूप से दुर्व्यवहार और धमकी दी गई। नारायणपुर के वार्ड पार्षद शिवसागर दास ने कहा कि उन्होंने भीड़ को शांत करने की कोशिश की, लेकिन किसी ने भी उन्हें ध्यान नहीं दिया।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.