बलात्कार का विरोध करने पर जला दी गई किशोरी की अस्पताल में मौत

16 Oct, 2020 18:16 IST|के. लक्ष्मण
खम्मम की पीड़ित लड़की

किशोरी सत्तर प्रतिशत तक जल गई थी

तेलंगाना राज्य मानवाधिकार आयोग ने घटना के बारे में संज्ञान लिया

हैदराबाद : तेलंगाना के खम्मम शहर में एक व्यक्ति के घर पर घरेलू सहायक के रूप में काम करने वाली जिस किशोरी को घर के मालिक ने जला दिया था। लगभग एक महीने चले उपचार के बाद गुरुवार की रात को यहां उसकी मौत हो गई। पुलिस ने यह जानकारी दी।

खम्मम में 18 सितंबर को जनजातीय समुदाय की 13 वर्षीय किशोरी से कथित तौर पर घर के मालिक ने बलात्कार का प्रयास किया था। विरोध करने पर आरोपी ने उसे जला दिया था। खम्मम के पुलिस आयुक्त तफसीर इकबाल ने कहा, "हैदराबाद के एक निजी अस्पताल में उपचार के दौरान गुरुवार रात को उसकी मौत हो गई।” 

पुलिस आयुक्त ने कहा कि आरोपी के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता की कुछ धाराएं लगाई गई थीं जिन्हें बदला जाएगा। उन्होंने कहा कि मामले में धारा 307 (हत्या का प्रयास) को बदलकर अब धारा 302 (हत्या) लगाई जाएगी। हालांकि घटना 18 सितंबर को हुई थी। पीड़िता को इलाज के लिए एक निजी अस्पताल में भर्ती किये जाने के बाद पुलिस को इसके बारे में पांच अक्टूबर को पता चला। 

इसे भी पढ़ें :

राज्य मानवाधिकार आयोग ने जलाने के मामले में मौत से जूझ रही लड़की की मांगी रिपोर्ट

13 साल की बच्ची से पहले की रेप की कोशिश, फिर पेट्रोल छिड़क कर लगा दी आग

पुलिस ने बताया था कि घटना के दिन घर के मालिक ने किशोरी से बलात्कार करने का प्रयास किया और इसमें असफल रहने पर उसने किशोरी पर पेट्रोल डालकर उसे जला दिया। पुलिस के अनुसार किशोरी सत्तर प्रतिशत तक जल गई थी। तेलंगाना राज्य मानवाधिकार आयोग ने घटना के बारे में मीडिया में आई खबरों का स्वतः संज्ञान लिया और खम्मम पुलिस से इस बाबत रिपोर्ट तलब की।

Related Tweets
Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.