आरबीआई का ऐलान : EMI में नहीं हुआ कोई बदलाव, रेपो दर भी जस की तस

6 Aug, 2020 13:17 IST|अनूप कुमार मिश्रा
आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास (फाइल फोटो)

रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक

रेपो दर को 4 प्रतिशत पर पूर्ववत रखा गया

मौद्रिक नीति समीक्षा में नीतिगत ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं

नई दिल्ली : कोरोना वायरस महामारी के चलते पटरी से उतरी अर्थव्यवस्था को फिर से दौड़ाने के लिए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया से गुरुवार को बड़ी घोषणा की उम्मीद थी, लेकिन ऐसा कुछ मिला नहीं। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने गुरुवार को मौद्रिक नीति समीक्षा में नीतिगत ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया।

रेपो दर को 4 प्रतिशत पर पूर्ववत रखा गया है। हालांकि, बैंक ने उदार रुख बनाये रखा है। रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने मौद्रिक नीति समिति की बैठक के बाद कहा कि प्रमुख नीतिगत दरों को यथावत रखा गया है। 

उन्होंने केन्द्रीय बैंक के रुख को उदार बनाये रखकर कोविड-19 संकट से पीड़ित अर्थव्यवस्था की मदद के लिए जरूरी होने पर भविष्य में कटौती का संकेत दिया। गवर्नर शक्तिकांत दास ने केंद्रीय बैंक की मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) द्वारा लिए गए निर्णयों की घोषणा करते हुए कहा कि रेपो दर को चार प्रतिशत पर यथावत रखा गया है। इसके साथ ही रिवर्स रेपो दर भी 3.35 प्रतिशत के स्तर पर बनी हुई है। 

उन्होंने कहा कि एमपीसी ने ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं करने के पक्ष में मतदान किया और वृद्धि को समर्थन देने के लिए उदार रुख को जारी रखने की बात कही। आरबीआई ने इससे पहले 22 मई को अपनी नीतिगत दर में संशोधन किया था, जिसके बाद ब्याज दर रिकॉर्ड निचले स्तर पर आ गई थी।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.