क्रेडिट और डेबिट कार्ड के लिए RBI ने बनाए ये नए नियम, जान लें नहीं तो हो सकता है नुकसान

18 Sep, 2020 16:27 IST|Sakshi
कान्सेप्ट फोटो

नई दिल्ली  : रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया क्रेडिट और डेबिट कार्ड नियमों में बदलाव किए हैं। RBI द्वारा किए जाने वाले ये बदलाव 30 सितंबर से लागू होंगे। डेबिट और क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने वालों के लिए परेशानी से बचने के लिए इन बदलावों के बारे में जानना जरूरी है। कस्टमर्स को अब अंतरराष्ट्रीय लेनदेन, ऑनलाइन लेनदेन और कॉन्टैक्टलेस कार्ड से लेनदेन के लिए प्राथमिकता दर्ज करानी होगी। ग्राहकों को इसके लिए आवेदन करने पर ही यह सर्विस मिलेगी। कोरोना महामारी की वजह से क्रेडिट और डेबिट कार्ड धारकों को समय मिल गया, अन्यथा ये नियम तो पहले ही लागू होने वाले थे। पहले इन्हें जनवरी से ही लागू किया जाना था। जानें क्या हो रहे हैं नियमों में बदलाव।

तय करनी होगी ट्रांजेक्शन की प्रायोरिटी
ग्राहकों को अब इंटरनेशनल लेनदेन, ऑनलाइन लेनदेन और कॉन्टैक्टलेस कार्ड से लेनदेन के लिए प्राथमिकता दर्ज करानी होगी। ग्राहकों को इसके लिए आवेदन करने पर ही यह सर्विस मिलेगी।इसका मतलब यह है कि कस्टमर को जिस सर्विस की जरूरत होगी, उसके लिए आवेदन करना होगा। 

बैंको को आरबीआई का निर्देश घरेलू ट्रांजेक्शन की हो परमिशन
आरबीआई ने बैंकों से कहा कि डेबिट और क्रेडिट कार्ड जारी करते वक्त ग्राहकों को घरेलू ट्रांजेक्शन की अनुमति देनी चाहिए। इसके अनुसार, यदि आवश्यकता नहीं है तो एटीएम से पैसे निकालते वक्त और पीओएस टर्मिनल पर शॉपिंग के लिए विदेशी ट्रांजेक्शन की अनुमति नहीं दें।

कौन सी सर्विस एक्टिवेट करनी कस्टमर्स कर सकेगा तय
बदले जा रहे नियमों के मुताबिक, कस्टमर अपनी जरूरत के हिसाब से तय कर सकता है कि उसे कौन-सी सर्विस एक्टिवेट करनी है और कौन सी डिएक्टिवेट। इससे बैंकों के अलावा कस्टमर्स को भी सुविधा मिलेगी। 

कभी भी बदल सकते है कार्ड लिमिट
कस्टमर दिन में किसी भी वक्त अपने ट्रांजेक्शन की लिमिट को बदल सकता है। अब आप मोबाइल ऐप, इंटरनेट बैंकिंग, एटीएम मशीन या आईवीआर के जरिए कभी भी अपने कार्ड की लिमिट बदल सकते हैं। ये नियम जनवरी में बना दिए गए थे, लेकिन लागू नहीं हो पाए थे। कोरोना महामारी की वजह से ये बदलाव अब 30 सितंबर से लागू होंगे।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.