प्रति व्यक्ति जीडीपी में भारत को पछाड़ने जा रहा बांग्लादेश, IMF की रिपोर्ट ने चौंकाया

14 Oct, 2020 14:45 IST|Sakshi
फोटो : सौ. सोशल मीडिया

तीसरा सबसे गरीब देश बनने की ओर अग्रसर भारत

2021 में भारत, चीन को पछाड़ सकता है 

नई दिल्ली : अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष का अनुमान है कि मौजूदा कैलेंडर ईयर में प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के मामले में बांग्लादेश भारत को पछाड़ते हुए आगे निकलने को तैयार है। अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के वर्ल्ड इकोनॉमिक आउटलुक (WEO) के अनुसार, साल 2020 में बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति जीडीपी 4 फीसदी बढ़कर 1,888 डॉलर होने की उम्मीद है, जबकि भारत की प्रति व्यक्ति जीडीपी 10.3 प्रतिशत घटकर 1,877 डॉलर रहने की उम्मीद है। जो पिछले चार सालों में सबसे कम है। आईएमएफ ने अनुमान जताया है कि इस साल भारत की जीडीपी में 10.3 फीसदी की गिरावट आ सकती है। 

अगर ऐसा हुआ तो प्रति व्यक्ति जीडीपी को लेकर भारत दक्षिण एशिया में पाकिस्तान और नेपाल के बाद तीसरा सबसे गरीब देश बन जाएगा। जबकि बांग्लादेश, भूटान, श्रीलंका और मालदीव की हालत इस मामले में भारत से अच्छी होगी। 

 तीसरा सबसे गरीब देश बनने की ओर अग्रसर भारत 

भारत के लिए आईएमएफ का यह अनुमान, जून में किए गए पूर्वानुमान से बहुत नीचे है, जिसमें कहा गया है कि कोरोनो वायरस महामारी की वजह से  उभरते बाजारों में सबसे बड़ा संकुचन देखने को मिल सकता है। मंगलवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार, दोनों देशों की जीडीपी का यह आंकड़ा मौजूदा कीमतों पर आधारित है।  जून में आईएमएफ के पिछले पूर्वानुमान में कहा गया था कि उत्पादन 4.5 प्रतिशत कम हो जाएगा।  

आईएमएफ के वर्ल्ड इकोनॉमिक आउटलुक की रिपोर्ट के अनुसार, भारत दक्षिण एशिया में तीसरा सबसे गरीब देश बनने की ओर अग्रसर है। केवल पाकिस्तान और नेपाल की प्रति व्यक्ति जीडीपी ही भारत से कम होगी जबकि बांग्लादेश, भूटान, श्रीलंका और मालदीव जैसे देश भारत से आगे होंगे। 

2021 में भारत, चीन को पछाड़ सकता है 

हालाँकि, IMF ने अनुमान जताया है कि 2021 में प्रभावशाली 8.8 प्रतिशत की विकास दर के साथ भारत, एशिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के रूप में वापसी कर सकता है। इस प्रकार सबसे तेजी से बढ़ती उभरती अर्थव्यवस्था की स्थिति को फिर से हासिल करते हुए भारत चीन की अनुमानित विकास दर 8.2 प्रतिशत को पार कर सकता है। 

चीन की अर्थव्यवस्था में 1.9 प्रतिशत की वृद्धि

आईएमएफ और विश्व बैंक की सालाना वार्षिक बैठक से पहले ‘विश्व आर्थिक परिदृश्य' रिपोर्ट जारी की गई है। इसमें कहा गया है कि 2020 में वैश्विक अर्थव्यवस्था में 4.4 प्रतिशत की गिरावट आएगी और 2021 में यह 5.2 प्रतिशत की जोरदार वृद्धि हासिल करेगी। रिपोर्ट के अनुसार 2020 में अमेरिका की अर्थव्यवस्था में 5.8 प्रतिशत गिरावट आने का अनुमान है, जबकि अगले वर्ष इसमें 3.9 प्रतिशत की वृद्धि होगी। वर्ष 2020 के दौरान दुनिया की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में केवल चीन ही एकमात्र देश होगा जिसमें 1.9 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की जायेगी। 

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.