जगन सरकार का 56 BC निगमों की स्थापना का फैसला ऐतिहासिक : आर.कृष्णय्या

18 Oct, 2020 20:15 IST|संजय कुमार बिरादर
साक्षी से बात करते हुए आर. कृष्णय्या

पिछड़े वर्गों के लिए 33 करोड़ खर्च

कर्नूल बीसी जिले में तब्दील

कार्पोरेशनों में 50 फीसदी महिलाएं

आर्थिक, सामाजिक और राजनीतिक दृष्टि से फैसला

विजयवाड़ा : पिछड़े वर्ग (BC) कल्याण संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष आर. कृष्णय्या ने BC के विकास के लिए 56 कार्पोरेशनों के गठन के आंध्र प्रदेश सरकार के फैसले को ऐतिहासिक करार दिया है। उन्होंने रविवार को साक्षी टीवी से खास बातचीत में कहा कि देश में किसी मुख्यमंत्री ने इतना बड़ा और क्रांतिकारी निर्णय नहीं लिया है। उन्होंने कहा कि अन्य राज्यों में पिछड़े वर्गों के नेता मुख्यमंत्री तो बने, लेकिन किसी ने भी इतने BC कार्पोरेशन स्थापित कर डॉयरेक्टरों की नियुक्ति नहीं की है। 

पिछड़े वर्गों को निगमों का नेतृत्व दिए जाने पर हर्ष व्यक्त करते हुए कृष्णय्या ने कहा कि राजनीतिक नेता बीसी को अब तक सिर्फ वोट बैंक मानते रहे, लेकिन सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्डी बीसी के समग्र विकास के लिए प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सीएम जगन कम आयु में साहसिक और बड़े निर्णय ले रहे हैं। उन्होंने बताया कि अन्य राज्यों के मुख्यमंत्री बीसी नेताओं को राजनीति में बहुत कम मौके दे रहे हैं। इन निगमों में महिलाओं को अधिक महत्व देना भी बड़ी बात है। कृष्णय्या ने कहा कि राज्य के विकास और पिछड़े वर्गों के व्यापक विकास के लिए सीएम जगन की कोशिशें सच में सराहनीय हैं।

कर्नूल बीसी जिले में तब्दील

वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के कर्नूल संसीदय क्षेत्र के अध्यक्ष बी.वाई. रामय्या ने मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी के फैसले को ऐतिहासिक बताते हुए कहा कि सीएम 56 बीसी कार्पोरेशन स्थापित कर पिछड़े वर्गों के विकास के लिए कदम उठा रहे हैं। कर्नूल जिले को बीसी जिले में तब्दील करने का श्रेय सीएम जगन को जाता है।  वाईसीपी नेता ने कहा कि सीएम ने बहुत कम समय में दिए हुए आश्वासनों को पूरा कर कल्याणकारी योजनाएं शुरू की हैं।  

पिछड़े वर्गों के लिए 33 करोड़ खर्च

कल्याणकारी योजनाओं पर अब तक 33 हजार करोड़ रुपए खर्च होने का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि चंद्रबाबू नायडू ने पिछड़े वर्गों के कल्याण के लिए 10 हजार करोड़ रुपए खर्च करने का आश्वासन देकर बाद में धोखा दिया। सरकारी स्कूलों में नाडु-नेडु कार्यक्रम के जरिए राज्य के हर गरीब विद्यार्थी के लिए अम्मा ओडी, जगनन्ना विद्या कानुका योजना शुरू की गई है। उसी तरह, 108, 104 एंबुलेंस और आरोग्यश्री योजना लागू कर कोरोना के संकटकाल में मुफ्त चिकित्सा सेवाएं मुहैया करवाई जा रही हैं।

कार्पोरेशनों में 50 फीसदी महिलाएं

श्रीशैलम के विधायक शिल्पा चक्रपाणी रेड्डी ने कहा कि प्रजा संकल्प यात्रा के दौरान दिए गए सभी आश्वासनों को सीएम जगन ने पूरे किए हैं। गरीबों के मुख्यमंत्री वाईएस जगन ने राज्य में BC के लिए 56 निगम गठित कर 670 डायरेक्टरों की नियुक्ति की है।
बीसी कार्पोरेशनों में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण दिया गया है। देश के किसी भी राज्य में इस तरह लोगों को दिए गए आश्वासनों को पूरा करने वाले मुख्यमंत्री सिर्फ और सिर्फ वाईएस जगन हैं।

आर्थिक, सामाजिक और राजनीतिक दृष्टि से फैसला

पाण्यम के विधायक काटसानी रामभूपाल रेड्डी ने कहा कि सीएम वाईएस जगन ने BC गर्जना के दौरान दिए गए आश्वासन को आज पूरा किया। उन्होंने पिछड़े वर्गों के लिए आर्थिक, सामाजिक और राजनीतिक दृष्टि से फैसले लिए हैं। बीसी, एससी, एसटी महिलाओं को चेयूता योजना के तहत सहायता पहुंचाई जा रही है। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से किसी भी सीएम ने इस तरह के फैसले नहीं लिए हैं।

वाईएसआर परिवार जो कहता है उसे पूरा करता है

विजयवाड़ा विश्व ब्राह्मण कमिशन के चेयरमैन तोलेटी श्रीकांत ने कहा कि वाईएसआर परिवार जो कहता है उसे पूरा कर दिखाता है। पदयात्रा के दौरान दिए गए आश्वासन के मुताबिक पिछड़े वर्गों को सीएम ने प्राथमिकता दी है। सीएम का फैसला 56 कार्पोरेशन स्थापित कर पिछड़े वर्गों के उज्ज्वल भविष्य के लिए मददगार साबित होगा।

कर्नूल के विधायक हाफीज खान ने कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी अपने दिए हुए सभी आश्वासन पर खरे उतरे हैं। डॉ.बीआर अंबेडकर और फुले के सपनों को राज्य के मुख्यमंत्री वाईएस जगन साकार कर रहे हैं। हर कल्याणकारी योजना में महिलाओं को अधिक महत्व दिया गया है। हाफीज खान ने बीसी कार्पोरेशन स्थापित करने के साथ ही डॉयरेक्टर्स नियुक्त करने के प्रति मुख्यमंत्री वाईएस जगन का आभार जताया।
 

Related Tweets
Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.