जेईई की मेन परीक्षाएं हुई शुरू, पहले चरण में उपस्थित हुयें 6,61,761 छात्र

23 Feb, 2021 14:58 IST|के. लक्ष्मण
कॉन्सेप्ट फोटो

चार बार परीक्षा लिखने छात्रों की संख्या है 21.75 लाख

JEE मेन के परीक्षार्थी लिख सकेंगे 11 क्षेत्रीय भाषाओं में परीक्षा

अमरावती : इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी (IIT) नेशनल इंस्टिट्युट ऑफ टेक्नालॉजी (NIT) और इंडियन इंस्टिट्युट ऑफ इन्फॉर्मेशन टेक्नालॉजी (IIIT) आदि शिक्षण संस्थाओं में प्रवेश योग्यता को लेकर राष्ट्रीय स्तर पर ली रही जेईई (JEE) मेन परीक्षा मंगलवार को सुबह शुरू हो गई है। राष्ट्रीय स्तर पर इस महीने की 26 तारीख तक हर रोज दो सेशन में कम्प्युटर टेस्ट की प्रणाली पर परीक्षा होंगी। राष्ट्रीय परीक्षा संस्था (NTA) हर साल फरवरी, मार्च, अप्रैल और मई में चार सेशन में परीक्षा लेने का निर्णय लिया है। 

बताया गया कि चार सेशन में एक या चार बार छात्र परीक्षा दे सकेंगे। चार सेशन में से जिस सेशन में छात्र ज्यादा अंक हासिल करगे का उस अंक के आधार पर रैंक निर्धारित किया जायेगा। चार बार परीक्षा लिखने के लिए आवेदन करने वाले छात्रों की संख्या 21.75 लाख है। ज्यादातर छात्रों ने फरवरी के सेशन में ही परीक्षा लिखने में रूचि दिखाई है। पहले सेशन (फरवरी) में 6. 61, 761, दूसरे सेशन (मार्च) में 5,04,540, तीसरे सेशन (अप्रैल) में 4,98.910 और चौथे सेशन (मई) में 5,09, 972 अपना नाम दर्ज कराया है। आंध्र प्रदेश से पहले सेशन में 87,797 छात्र उपस्थित होने की जानकारी है। 


इसे भी पढ़ें :

असम में जेईई परीक्षा फर्जीवाड़ा मामले में एसआईटी गठित, 5 लोग गिरफ्तार

JEE Advance 2020 Result : जेईई एडवांस्ड का रिजल्ट घोषित, पुणे के चिराग रहे टॉपर

आपको बता दें कि जेईई की परीक्षा लिखने वाले छात्र इस बार अंग्रेजी और हिंदी के अलावा 11 क्षेत्रीय भाषाओं में परीक्षा लिख सकेंगे। एनटीए ने इस बात की अनुमति दी है। यानी तेलुगु, तमिल, कन्नड, मलयालम, मराठी, ओडिया, पंजाबी, ऊर्दू, असमिया, बंगाली और गुजराथी भाषा में छात्र परीक्षा लिख सकेंगे। इसके बावजूद छात्रों ने अंग्रेजी में ही परीक्षा लिखने पर अधिक रूचि दिखाई है। 
 

Related Tweets
Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.