Cyclone Nivar के मद्देनजर नेल्लोर में हाई अलर्ट, यूजी और पीजी की परीक्षाएं रद्द

25 Nov, 2020 11:45 IST|संजय कुमार बिरादर
कॉंसेप्ट इमेज

नेल्लोर में भारी बारिश

जलाशयों से छोड़ा गया पानी

अलर्ट पर है बिजली विभाग

विशाखापट्टणम : निवार तूफान की तीव्रता को देखते हुए आंध्र प्रदेश के कई जिलों में प्रशासन अलर्ट पर है। वर्मतान में ये  तूफान कडलूरु के दक्षिण पूर्व में 290 KM, पुडुचेरी से 300 KM तथा चेन्नई के दक्षिणपूर्व में 350 किलो मीटर की दूरी पर केंद्रित है।अगले 12 घंटे में इसका उग्र तूफान में तब्दील होने का खतरा है।

पुडुचेरी के पूर्व और चेन्नई के दक्षिण पूर्व दिशा में केंद्रित इस तूफान के आज देर रात या कल सुबह कराइकल, महाबलिपुरम के पास से तट को पार करने की संभावना है।  तट को पार करे के दौरान प्रति घंटे 120 से 130 किलो मीटर की रफ्तार से हवाएं चलेंगी। बंगाल की खाड़ी में बने निवार तूफान का असर पूरे तटीय आंध्र में देखा जा रहा है।

निवार तूफान के असर से बुध और गुरुवार को दक्षिणांध्र के तटीय इलाका और रायलसीमा के जिलों में सामान्य से भारी बारिश होने की संभावना जताई गई है। आंध्र प्रदेश राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के आयुक्त के. कन्नबाबू के मुताबिक तूफान के असर से राज्य के नेल्लोर और चित्तूर जिलों में जगह-जगह भारी बारिश हो सकती है।

राहत कार्यों के लिए SDRF, NDRF की टीमें तैयार हैं। उन्होंने बताया कि तूफान की गति और गंतव्य के आधार पर समय-समय पर जिले के अधिकारियों व सरकारी विभागों को अलर्ट किया जा रहा है। यही नहीं, मछुआरों को शिकार पर जाने से मना कर दिया गया है। किसानों से खेती के कामों के दौरान सतर्क रहने और जरूरी सावधानियां बरतने को कहा गया है।

अलर्ट पर है बिजली विभाग
मौसम विभाग के अधिकारियों के मुताबित तूफान के महाबलीपुरम के पाच तट को पार करने के दौरान इसका असर ज्यादा रहेगा और उसी तीव्रता के साथ तूफान चित्तूर जिले में प्रवेश करेगा। इसी के मद्देजनर बिजली विभाग सतर्क हो गया है। तूफान के दौरान राहत कार्यों पर एपीएसपीडीसीएल के चेयरमैन हरिनाथ राव ने कहा कि नेल्लोर और चित्तूर में कंट्रोल रूम बनाए गए हैं। नायडूपेट, गुडूरु, श्रीकालहस्ती, पुत्तूर डिवीजनों में तूफान का अधिक असर देखने को मिलेगा।

हर डिवीजन के लिए सुपरिंटंडेंट इंजीनियर स्तर के अधिकारी को स्पेशल अधिकारी के तौर पर नियुक्त किया गया है। कर्नूल, कडपा, अनंतपुर जिलों से 20 स्पेशल टीमें बुलाई गई हैं और हर टीम में 10 सदस्य मौजूद रहेंगे। निर्धारित चार डिवीजन्स के लिए पहले ही बिजली के खंभे, केबल और कंडक्टर भेजे जा चुके हैं और कहीं भी बिजली आपूर्ति प्रभावित होने पर 1912 टोल फ्री नंबर पर फोन करने को कहा गया है। 

निवार इफेक्ट...यूजी, पीजी की परीक्षाएं रद्द

निवर तूफान के असर से अनंतपुरम के जेएनटीयू के अंतर्गत आने वाले यूजी और पीजी की परीक्षाएं स्थगित की गई हैं। जेएनटीयू परीक्षा विभाग के निदेशक शशिधर ने इस बाबत एक सर्कुलर जारी किया है। उन्होंने कहा कि पांच जिलों में परीक्षाएं रद्द की गई हैं।

नेल्लोर में भारी बारिश
नेल्लोर जिले के जिलाधीश चक्रधर बाबू ने बताया कि  निवार तूफान के असर से नेल्लोर जिले में भारी बारिश हो रही है। इससे तटीय इलाकों में बसे गांवो व नदियां बहने वाले क्षेत्रों में एनडीआरएफ और एसडीआरएफ कर्मचारियों को तैनात किया गया है। जिले में 100 पुनरावस केंद्र बनाए गए हैं। निचले क्षेत्र के लोगों को अधिकारी सुरक्षित जगहों पर ले जा रहे हैं। सचिवालय के कर्मचारी और वालेंटियर्स के साथ जिले में 5000 कर्मचारी तूफान से बचाव व राहत कार्यों में भाग लेंगे।  बुधवार और गुरुवार को जिले में भारी बारिश होगी और लोगों को सतर्क रहना होगा।

इसे भी पढ़ें : 

आज तमिलनाडु और पुडुचेरी तट से टकराएगा चक्रवाती तूफान 'निवार', फ्लाइट्स कैंसिल, सार्वजनिक छुट्टी का ऐलान

जलाशयों से छोड़ा गया पानी

उन्होंने कहा कि नदी के तटीय इलाकों में रह रहे लोगों को अलर्ट कर दिया गया है और लोगों से अनिवार्य परिस्थितियों में ही घरों से बाहर निकलने को कहा है। जिले में तालाब पहले से भरे होने और सोमशिला जलाशय में 75 टीएमसी, कंडलेरु में 60 टीएमसी पानी होने के कारण सोमशिला से 8,500 क्यूसेक और कंडलेरु से 6,500 क्यूसेक पानी समुद्र में छोड़ा जा चुका है। उन्होंने कहा कि मुश्किल में फंसे लोग 1077 पर फोन करके सहायता प्राप्त कर सकते हैं।

Related Tweets
Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.