क्षेत्रीय दवाई भंडारण केंद्रों के निर्माण का मार्ग हुआ प्रशस्त

20 Nov, 2020 21:31 IST|के. लक्ष्मण
कॉन्सेप्ट फोटो

प्रदेश में हैं 13 सेंट्रल दवाई भंडारण केंद्र 

नई तकनीकी से बनी कोल्ड चेन की होगी व्यवस्था

अमरावती : प्रदेश में तीन क्षेत्रीय दवाई भंडारण केंद्र (Regional Drugs Stores) बनाये जा रहे हैं। ये केंद्र विशाखापट्टणम, (Visakhapatnam) विजयवाड़ा और तिरुपति में बनेंगे। एक केंद्र के निर्माण के लिए राष्ट्रीय आरोग्य मिशन (NHM)10 करोड़ रुपये निधि दे रहा है। इस तरह केंद्र देश के अन्य किसी भी राज्य में नहीं होंगे। एक भंडारण केंद्र 40 हजार स्क्वैयर फीट क्षेत्र में बनेगा। इसे ध्यान में रखते हुए निर्माण का डिजाइन बनाया जा रहा है। आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) में अधिग्रहीत जगहों पर एक साल के भीतर इन निर्माण कार्यों को पूरा किया जाएगा। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कवायद कर रहे हैं। 

आपको बता दें कि प्रदेश के 13 जिलों में 13 सेंट्रल दवाई भंडारण केंद्र हैं। इन दवाइयों के भंडारण के लिए पर्याप्त जगह उपलब्ध नहीं है। इसे देखते हुए प्रदेश आपूर्ति प्रस्ताव के मद्देनजर तीन क्षेत्रीय दवाई भंडारण केंद्र बनाये जाएंगे। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन ने इन्हें मंजूरी दी है। 

इसे भी पढ़ें :

सरकार को लोगों और कर्मचारियों के स्वास्थ्य की है फिक्र

भारत में कोरोना को लेकर एक अच्छी खबर, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी यह जानकारी

नये बनाये जानेवाले इन केंद्रों में क्वारंटाइन की सुविधा के साथ दवाइयों के भंडारण करने के लिए जगह उपलब्ध होगी। एक केंद्र में लगभग छह महीनों तक अतिआवश्यक दवाइयों का भंडारण होगा। भंडारण के लिए नई तकनीकी का उपयोग कर कोल्ड चेन (Cold Chain) की भी व्यवस्था की जाएगी। दवाई भंडारण केंद्र में इंजेक्शन्स, वैक्सिन्स और महंगी दवाइयों का भंडारण किया जा सकेगा। 

Related Tweets
Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.