सीएम जगन ने शिपिंग हार्बर का किया शिलान्यास

21 Nov, 2020 14:26 IST|के. लक्ष्मण
आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन

निर्माण कार्य शुरू करने की तैयारियां हुई पूरी

2,337 परिवारों को सरकार की ओर से दी गई सहायता

अमरावती : मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी (YS Jagan Mohan Reddy) ने मत्स्य उत्पादन क्षेत्र में विकास की गति तेज की है। उन्होंने मत्स्य उत्पादन को विश्व स्तर पर पहचान दिलाने पर जोर दिया है। विश्व मत्स्य दिवस (World Fisheries Day) पर सीएम मछुआरों को मौलिक सुविधाएं उपलब्ध कराने की दिशा में कारगर कदम उठाया है। उन्होंने प्रदेश में चार शिपिंग हार्बर बनाने के कार्य का शुभारंभ किया है। वर्च्युअल तरीके से सीएम ने निर्माणाधीन शिपिंग हार्बरों का शिलान्यास किया। 

सीएम ने बताया कि प्रदेश के चार जिलों नेल्लोर के जुव्वलादिन्ने, पूर्वी गोदावरी जिले के उप्पाडा, गुंटूर के निजामपटणम और कृष्णा जिले के मछलीपटणम में शिपिंग हार्बर का निर्माण होगा। अधिकारियों ने निर्माण कार्य शुरू करने की तैयारियां पूरी कर ली है। निर्माण के अंतर्गत 25 एक्वा हब बनाये जाएंगे। 

वाईएस जगन ने कहा कि मछली आखेट के दौरान पाबंदी लगने से परिवार को आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ा। इस देखते हुए सरकार ने हर एक परिवार को 10 हजार रुपये आर्थिक सहायता दी। तटीय क्षेत्र के लगभग 2, 337 परिवारों को सरकार की ओर से सहायता उपलब्ध कराई गई। साथ ही डीजल सब्सिडी को 6 से बढ़ाकर 9 रुपये कर दिया। 

इसे भी पढ़ें :

सीएम जगन तुंगभद्रा पुष्करालु में होंगे शामिल

आंध्र प्रदेश : 26 नवंबर से शुरू होगी नई योजना, इन तीन जिलों की महिलाओं को मिलेगा पहले लाभ

मुख्यमंत्री ने कहा कि मछली आखेट के दौरान दुर्घटनावश मछुआरे की मौत होती है तो मुआवजा के तौर पर दी जानेवाली राशि भी बढ़ाकर 10 लाख रुपये कर दी गई है। मछली उत्पादन का काम करनेवाले किसानों को एक यूनिट बिजली के लिए डेढ़ रुपया वसूला जा रहा है। मछली उत्पादन में गुणवत्ता बनाये रखने के लिए एक्वा लैब बनाये गये हैं। पश्चिम गोदावरी जिले में फिशरीज (मत्स्योद्योग) यूनिवर्सिटी बनाने के लिए आर्डिनेंस लाया गया। 

Related Tweets
Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.