आंध्र प्रदेश: YSRCP का चौथे चरण में 2700 पंचायत सीटें जीतने का दावा

22 Feb, 2021 20:51 IST|Sakshi
पंचायत चुनाव नतीजों के बाद जीत का जश्न मनाते YSRCP कार्यकर्ता

अमरावती: आंध्र प्रदेश में पंचायत चुनाव (Panchayat Election)का चौथा चरण पूरा होने के बाद राजनीतिक दलों ने अपने-अपने गठबंधन के उम्मीदवारों की जीत के आंकड़ों को लेकर दावे किये हैं। सत्तारूढ़ युवजन श्रमिक रायतु कांग्रेस पार्टी (YSRCP) ने कहा है कि अधिसूचित 3,299 पंचायतों में से 2,743 पंचायतों में मतदान हुआ है। इसमें से 2,513 पंचायतों में पार्टी के गठबंधन द्वारा समर्थित उम्मीदवारों ने जीते हैं। इतना ही नहीं, पार्टी का यह भी कहना है कि राज्य की प्रमुख विपक्षी पार्टी तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) गठबंधन के उम्मीदवारों को केवल 488 पंचायतों में ही जीत हासिल हुई है। सत्तारूढ़ पार्टी के नेताओं ने यह भी दावा किया कि वाईएसआरसीपी समर्थित उम्मीदवारों ने चौथे चरण में 554 सर्वसम्मति वाली पंचायतों में से 534 सीटें जीतीं, जबकि टीडीपी ऐसी केवल 9 पंचायतों पर ही कब्जा जमा पाई। 

आंध्र प्रदेश में 9 फरवरी से शुरू हुए पंचायत चुनाव का रविवार को चौथे चरण का समापन हुआ। अंतिम चरण में 81.78 प्रतिशत वोटिंग हुई। बता दें कि चौथे चरण में 16 राजस्व प्रभागों, 13 जिलों के 161 मंडलों के लिए वोटिंग हुई और अधिकांश परिणाम भी आ चुके हैं।

मतदान में 2,743 सरपंच और 22,423 वार्ड सदस्यों को चुना गया। चौथे चरण में 67,75,226 वोटरों ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था। ये मतदान 28,995 केंद्रो पर हुआ, जिनमें से 6,047 मतदान केंद्रों की पहचान संवेदनशील मतदान केंद्रों के तौर पर की गई थी। साथ ही 4,967 मतदान केंद्रों की पहचान हाइपरसेंसिटिव केंद्रों के रूप में हुई थी।

चौथे चरण में मतदान की प्रक्रिया को सफल बनाने के लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने 1,538 स्टेज 1 रिटर्निंग अधिकारियों, 3,130 स्टेज -2 रिटर्निंग अधिकारियों, 3,848 सहायक रिटर्निंग अधिकारियों, 34,809 पीठासीन अधिकारियों और 53,282 अन्य मतदान कर्मियों को काम में लगाया था। इसके अलावा, 544 जोनल अधिकारियों, 1,406 रूट अधिकारियों और 2,620 माइक्रो पर्यवेक्षकों को स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करने के लिए जुटे रहे थे। 

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.