साड़ी से लेकर दान के पैसों तक उजागर हुई धांधली, कनक दुर्गा मंदिर के 13 कर्मचारी सस्पेंड

23 Feb, 2021 11:47 IST|मीता
कनक दुर्गा मंदिर, विजयवाड़ा

एसीबी ने तीन दिन तक मंदिर में तलाशी ली

बड़े पैमाने पर हुई मंदिर में अनियमितताएं

एसीबी की रिपोर्ट के आधार पर हुआ सस्पेंशन

विजयवाड़ा : सरकार ने विजयवाड़ा (Vijayawada) कनक दुर्गा मंदिर (Kanaka Durga Temple) में काम करने वाले पांच सुपरिंटेंडेंट स्तर के कर्मचारियों सहित कुल 13 कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया है। सरकार ने एसीबी (ACB) अधिकारियों द्वारा मंदिर में तलाशी लेने के बाद सौंपी गई एक रिपोर्ट पर यह कार्रवाई की है।

एसीबी अधिकारियों ने तीन दिनों तक मंदिर की तलाशी ली। सरकार ने एसीबी द्वारा दी गई रिपोर्ट पर ही ये कार्रवाई की। रिपोर्ट में कहा गया है कि अन्नदानम, दान, टिकट बिक्री और साड़ी बिक्री में अनियमितताएं देखी गई।

धर्मस्व विभाग के विशेष आयुक्त अर्जुन राव ने सोमवार रात को एसीबी द्वारा प्रदान की गई प्रारंभिक सूचना के आधार पर सात प्रकार के विभागों में काम करने वाले कर्मचारियों को तत्काल सस्पेंड करने का आदेश मंदिर के ईओ सुरेश बाबू को दिया , जिसमें मंदिर की भूमि, दुकानों, दान की बिक्री, दर्शन के टिकट में भारी अनियमितताएं थीं। माता दुर्गा की साड़ियों की बिक्री में भी घोटाले का खुलासा हुआ। 

इसके लिए सुरेश बाबू ने अन्नदानम, स्टोर और हाउसकीपिंग विभाग के सुपरिंटेंडेंट को सस्पेंड करने के लिए कदम उठाए, साथ ही साथ मंदिर की जमीनों और दुकानों के पट्टे मामलों की देखरेख करने वाले सुपरिंटेंडेंट और वे सुपरिंटेंडेंट जिन्होंने नियमित रूप से इंद्रकिलाद्री के विभिन्न काउंटरों की देख-रेख करने वाले सुपरिंटेंडेंट को भी सुरेश बाबू ने सस्पेंड करने का कार्रवाई तुरंत की। 

इसे भी पढ़ें: 

सीएम जगन ने पंचायत चुनाव में शानदार जीत के लिए मंत्री पेद्दीरेड्डी को दी बधाई

ईओ सुरेश बाबू ने दर्शन टिकट बिक्री काउंटर पर काम करने वाले तीन लोगों को सस्पेंड कर दिया है, साथ ही प्रसाद वितरण, साड़ी स्टोर करने और फोटो बेचने का काम करने वाले कर्मचारी भी इनमें शामिल है।

Load Comments
Hide Comments
More News
आंध्र-प्रदेश
मुख्य समाचार
.